दुर्लभ पैंगोलिन शल्क के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार, 7 लाख का माल बरामद


  • बालाघाट जिले में वन विभाग की टीम को मिली बड़ी कामयाबी
  • पैंगोलिन की तस्करी करने वाले 2 लोगों को किया गिरफ्तार
  • मुखबिर की सूचना पर रेंजर खुद ग्राहक कर बन गए थे
  • दोनों तस्करों के पास से 7 किलो पैंगोलिन शल्क जप्त
बालाघाट। वन विभाग की टीम ने मुखबिर की सूचना पर दुर्लभ वन्य प्राणी पैंगोलिन के शल्क को बेचने जा रहे मुख्य आरोपी चतुरसिंह उइके और ठगेल सिंह को वारासिवनी तहसील परिसर के सामने से गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से 7 किलो पैगोंलियन की शल्क बरामद की गई। जिसकी अंतराष्ट्रीय बाजार में 7 लाख रूपये कीमत हैं। रेंजर ने ग्राहक बन कर ये पूरी कार्रवाई की है। मामले में और आरोपियों के होने की संभावना है। इसे लेकर गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ चल रही है। बताया जा रहा है कि पकड़े गए मुख्य आरोपी चतुरसिंह और ठगेल सिंह किसी अज्ञात व्यक्ति को शल्क बेचने जा रहा था। इस सूचना पर रेंजर ग्राहक बन कर गए। वन परिक्षेत्र अधिकारी यशपाल मेहरा ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ लोग पैंगोलिन के शल्क बेचने जा रहे है, तभी वह ग्राहक बनकर इनसे शल्क खरीदने गया था। मेरा सौदा लगभग इनसे 35 हजार रुपये में हुआ था। ये आरोपी लगभग 4-5 हजार रुपये किलो के हिसाब से सेल करते है। तभी हमारी टीम ने इन्हें पकड़ लिया। वहीं, इन दोनों आरोपी के खिलाफ वन्यजीव संरक्षण अधिनियम अपराध दर्ज किया गया हैं। दरअसल, 3 दिन पहले भी पैंगोलिन की तस्करी में फरार 1 आरोपी को गिरफ्तार किया गया था।