खतरे की घंटी! अभी भी जम्मू कश्मीर में 270 से ज्यादा आतंकवादी एक्टिव


जम्मू। जम्मू कश्मीर में अभी 270 से अधिक आतंकवादी सक्रिय हैं और यह संख्या 2019 और 2020 के आंकड़ों से कम है। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि केंद्र शासित प्रदेश में 2020 में आतंकवादी घटनाओं, घुसपैठ और असैन्य लोगों की हत्या की घटनाओं में कमी आते देखी गई। सुरक्षा बलों ने 100 से अधिक आतंकवाद रोधी ‘‘सफल’’ अभियानों में 225 आतंकवादियों को मार गिराया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इस वक्त जम्मू कश्मीर में 270 से अधिक आतंकवादी सक्रिय हैं, जिनमें से 205 कश्मीर घाटी में हैं। उन्होंने बताया कि जम्मू कश्मीर में 2019 में 421 और 2020 में 300 से अधिक आतंकवादी सक्रिय थे। उन्होंने बताया कि 2020 में कुल 225 आतंकवादी मारे गये। वहीं, 2019 में 160 और 2018 में 257 आतंकवादी मारे गये थे। उन्होंने बताया कि किश्तवाड़-डोडा और पुंछ सहित जम्मू क्षेत्र में पीर पंजाल (पर्वत)श्रेणी के दक्षिण में अबतक शांतिपूर्ण रहे इलाकों में भी 2020 में आतंकवादी गतिविधियां देखने को मिली। जम्मू कश्मीर पुलिस प्रमुख दिलबाग सिंह ने हाल ही में कहा था , ‘‘ आतंकवादियों की मदद करने वाले 635 लोगों को 2020 में गिरफ्तार किया गया और उनमें से 56 पर जन सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत मामला दर्ज किया गया।’’ सिंह ने कहा था कि सभी आतंकी संगठन अब नेतृत्वविहीन हो गये हैं और पाकिस्तान स्थित आतंकी सरगनाओं द्वारा किसी संगठन के नेतृत्वकर्ता के तौर पर भर्ती किये जा रहे आतंकवादी या तो पकड़े गये हैं, या मारे गये हैं।