कानपुर में खबर दिखाने पर तीन पत्रकारों के खिलाफ एफआईआर, अब मान्यता जांच रहा सूचना विभाग


कानपुर ब्यूरो। यूपी के कानपुर देहात जिले में बीते शनिवार यूपी स्थापना दिवस में बिना स्वेटर योग कर रहे बच्चों की खबर टीवी चैनल पर दिखाने के बाद तीन पत्रकारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। अकबरपुर कोतवाली में बीएसए की तरफ से दर्ज रिपोर्ट में मोहित कश्यप, अमित सिंह और यासीन मलिक को धारा-505 और 506 का आरोपी बनाया गया है।
डीएम ने दी सफाई
डीएम दिनेश चंद्र के अनुसार, एफआईआर के बारे में बीएसए ही बता पाएंगे। उनसे इस बारे में पूछा जाएगा। पत्रकारों से कोई मतभेद नहीं हैं। वे आकर बात करें तो समस्या सुलझेगी। कार्यक्रम की नोडल अधिकारी सीडीओ सौम्या पांडेय थीं। काफी कोशिशों के बावजूद सीडीओ से बात नहीं हो सकी।
ठंड में बिना स्वेटर बच्चों से कराया गया था योग
कानपुर देहात में 24 जनवरी को ईको गार्डन में यूपी स्थापना दिवस मनाया गया था। इस दौरान कई छोटे बच्चों ने हाफ कपड़ों में यौगिक क्रियाएं की थीं। यह खबर टीवी चैनलों पर दिखाने के बाद बीएसए ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए तहरीर दी थी।
मान्यता जांचने का दिया आदेश
पत्रकारों पर मुकदमा दर्ज होने के बाद अब उनकी मान्यता जांचने का भी आदेश दिया गया है। डीएम ने सूचना विभाग को मान्यता जांचने के आदेश दिए हैं जिसके बाद पत्रकारों को सूचना विभाग में तलब किया गया है।
प्रेस क्लब ने जाहिर की नाराजगी
इधर पत्रकारों पर एफआईआर दर्ज होने के बाद कानपुर प्रेस क्लब ने नाराजगी जाहिर की है। अध्यक्ष अवनीश दीक्षित ने बताया कि कानपुर प्रेस क्लब 29 जनवरी को इस मामले में कमिश्नर कानपुर मंडल को ज्ञापन देगा। पत्रकारों पर दर्ज मुकदमें को वापस लेने की मांग की जाएगी।