मुरादनगर श्मशान घाट हादसा: आरोपी ठेकेदार का नगर निगम में था रसूख


  • मुरादनगर में श्मशान घाट का लिंटर गिरने से दो दर्जन से ज्यादा लोगों की हुई थी मौत
  • इस घटना के बाद विपक्ष ने निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार को लेकर सरकार पर भी सवाल उठाए
  • गाजियाबाद के मुरादनगर में हुई इस घटना के बाद पूरे प्रदेश में हड़कंप
गाजियाबाद ब्यूरो। गाजियाबाद के मुरादनगर में हुई घटना के बाद प्रशासनिक अमले पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं। इस बीच एक तस्वीर सामने आई है। इसमें मुरादनगर हादसे का मुख्य आरोपी ठेकेदार अजय त्यागी दिख रहा है। बताया जाता है कि अजय त्यागी का नगर निगम में खासा रसूख था। वह अपना जन्मदिन भी निगम ऑफिस में ही मनाता था। जन्मदिन की ही एक तस्वीर में अजय त्यागी की निगम के कर्मचारियों से करीबी दिख रही है। अजय त्यागी को अधिशासी अभियंता देशराज सिंह भी केक खिलाते हुए दिख रहे हैं। इस बीच आपको बता दें कि ठेकेदार अजय त्यागी को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। पुलिस पूछताछ में उसने खुलासा किया है कि वह अफसरों को 30 पर्सेंट कमीशन दिया करता था। पुलिस ने सोमवार देर रात ही ठेकेदार अजय त्यागी को गिरफ्तार किया था। घटना के बाद से फरार चल रहे त्यागी पर 25 हजार रुपये का इनाम भी रखा गया था। लंबी पूछताछ के बाद मंगलवार को उसे कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। उधर, इस घटना से नाराज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्माण कार्य में हुए सरकारी धन के नुकसान के साथ ही मृतकों के परिवार को दी जा रही सहायता राशि की भरपाई जिम्मेदार ठेकेदार और अधिकारियों से करने के निर्देश दिए हैं। नुकसान के साथ आश्रितों को दी जा रही मुआवजा राशि की भरपाई पहली बार ठेकेदार और अफसरों से की जाएगी।