गणतंत्र दिवस पर तिहाड़ जेल सजायाफ्ता कैदियों को 'विशेष माफी', इस बार ज्यादा होगी संख्या


सुनील कुमार,(दिल्ली ब्यूरो)। हर साल की तरह इस बार भी गणतंत्र दिवस पर तिहाड़ जेल से कैदियों को सजा में विशेष माफी मिलेगी। लेकिन इस बार इनकी संख्या कुछ ज्यादा हो सकती है। इस बारे में तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार के पास सजायाफ्ता कैदियों की लिस्ट भेजी है। यह लिस्ट पर ओके की आखिरी मुहर लगते ही तिहाड़ जेल प्रशासन उन कैदियों की सजा में विशेष माफी लागू कर देगा। उन्हीं कैदियों को विशेष माफी मिलेगी जिनका जेल में रहते हुए आचरण अच्छा और नियमावली के मुताबिक होगा। तिहाड़ जेल प्रशासन के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि, तिहाड़ में इस वक्त 16300 कैदी हैं। जिनमें
2500 से 3000 कैदी सजायाफ्ता
तिहाड़ जेल प्रशासन ने बताया कि सजायाफ्ता कैदियों में भी कैटगरी वाइज विशेष माफी का लाभ दिया जाएगा। इनमें 65 से ऊपर की उम्र के एक साल की सजा वाले को 20 दिन। एक साल से पांच साल वाले को 30 दिन। पांच साल से 10 साल तक की सजा वाले कैदी को 60 दिन। 10 साल से अधिक वाले को 90 दिन। बाकी 65 से नीचे की उम्र वाले कैदियों को एक साल की सजा वाले को 15 दिन। एक साल से 5 साल की सजा वाले को 30 दिन। पांच साल से 10 साल वाले को 45 दिन और 10 साल से अधिक सजा वाले को 60 दिन। तिहाड़ जेल प्रशासन ने साफ किया कि गणतंत्र दिवस पर सिर्फ सजायाफ्ता कैदियों को ही लाभ मिलेगा। इनमें ऐसे कैदी भी होंगे जिनकी सजा के आखिरी 20 दिन या 30 दिन बचे हैं, उन्हें जेल से आजाद कर दिया जाएगा। प्रस्ताव पर एक दो दिन में मुहर लगेगी। दरअसल, अपराध प्रक्रिया संहिता की धारा 432 के तहत यह राज्य सरकार के अधिकार क्षेत्र में आता है। इस अपराध कानून के तहत किसी शख्स को किसी अपराध के लिए दंडित किया जाता हैं। तब सरकार दंड पर अमल कर अवधि में कभी भी पूरे या उस दंड के हिस्से को समाप्त कर सकती है या क्षमा प्रदान कर सकती हैं।
जेल में तीन कैदी कोरोना संक्रमित
तिहाड़ जेल में एक बार फिर तीन कैदी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। इसमें से दो कैदी मंडोली जेल में, जबकि एक कैदी तिहाड़ जेल में बंद हैं। तिहाड़ जेल में मिला कोरोना संक्रमित कैदी को हाल ही में पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जेल में आने से पहले उसकी कोरोना जांच की गई थी। जांच में संक्रमित पाए जाने पर उसे अन्य कैदियों से अलग कर दिया गया है। इससे पहले लक्षण पाए जाने के बाद जांच करवाने पर मंडोली जेल में दो कैदी संक्रमित पाए गए हैं। तीनों का उपचार चल रहा है। जेल प्रशासन ने बताया कि किसी भी कैदी में इस तरह के लक्षण पाए जाने पर उनकी तुरंत जांच की जा रही है। जेल के बैरकों में सैनेटाइज, सभी को मास्क पहनने और सामाजिक दूरी का पालन करने के निर्देश दिए गए हैं।