गाजियाबाद के अपर जिला जज ने किया सुसाइड! घर में पंखे से लटका मिला शव


  • गाजियाबाद में एडीजे योगेश कुमार का शव संदिग्ध हालात में मिला
  • घर के पंखे से लटका मिला शव, पुलिस को खुदकुशी की आशंका
  • मेरठ के रहने वाले एडीजे योगेश कुमार की 2020 में हुई थी तैनाती
  • शव के पास से नहीं मिला कोई नोट, खुशमिजाज स्वभाव के थे जज
प्रेम प्रकाश त्रिपाठी,(गाजियाबाद)। गाजियाबाद में अपर जिला जज योगेश कुमार का शव पंखे से लटका मिला है। पुलिस को आशंका है कि उन्होंने खुदकुशी की है। एडीजे और सत्र न्यायाधीश योगेश कुमार सिहानी गेट इलाके की ईस्ट मॉडल टाउन में स्थित जज रेजिडेंसी में रहते थे। योगेश कुमार एडीजे कोर्ट संख्या-9 गाजियाबाद तैनात थे। शुक्रवार सुबह उनका शव संदिग्ध हालात में पंखे से लटका मिला। घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है।
2020 में हुई थी पहली पोस्टिंग
जानकारी के अनुसार योगेश कुमार मूल रूप से मेरठ के रहने वाले थे और उनकी पहली पोस्टिंग 2020 में हुई थी। फिलहाल गाजियाबाद के अपर जिला जज और सत्र न्यायाधीश कोर्ट संख्या 9 में वह तैनात थे। वह अपने परिवार के साथ थाना सिहानी गेट इलाके की ईस्ट मॉडल टाउन कॉलोनी स्थित जज रेजीडेंसी में रहते थे। शुक्रवार को सुबह जब घर के कमरे में पंखे से उनके शव को लटका देखा गया तो घर में अन्य मौजूद लोगों के होश उड़ गए। इसकी सूचना आनन-फानन में स्थानीय पुलिस को दी गई। हालांकि उनके शव के पास से किसी तरह का सुसाइड नोट भी बरामद नहीं हुआ है। फिलहाल अभी कई पहलुओं पर इस पूरे मामले की गहनता से जांच की जा रही है।
उनके घनिष्ठ परिचित अमित नाम के एक युवक ने बताया कि योगेश कुमार बेहद खुशमिजाज स्वभाव के थे। आखिर इस तरह का कठोर कदम किसलिए उठाया गया वह खुद इस बात को सोचकर हैरान हैं। उधर इस पूरे मामले में गाजियाबाद पुलिस कुछ भी कहने से इनकार कर रही है। केवल कई पहलुओं पर जांच की बात अवश्य कही जा रही है।