मुरादनगर हादसे में मानवाधिकार आयोग ने गाजियाबाद डीएम से दो हफ्तों में मांगी रिपोर्ट


प्रेम प्रकाश त्रिपाठी,(गाजियाबाद)। मुरादनगर हादसे में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने ग़ाज़ियाबाद के डीएम को नोटिस भेजकर, गाजियाबाद के डीएम से मुरादनगर कांड पर दो हफ्ते में रिपोर्ट तलब की है। अधिवक्ता विष्णु गुप्ता की याचिका पर संज्ञान लेते हुए मानवाधिकार आयोग ने ये नोटिस जारी किया है।वहीं मुरादनगर श्मशान में हुए हादसे में 25 लोगों की मौत होने के बाद, अब प्रशासन मानों नींद से जाग गया है और इस मामले में एक के बाद एक कार्रवाई तेज होती जा रही है और इसी कड़ी में गाजियाबाद के एसडीएम ने नगर पालिका परिषद मुरादनगर के निर्माण विभाग और अकाउंट विभाग को सील कर दिया गया है। दरअसल मुरादनगर के श्मशान में भवन निर्माण भ्रष्टाचार की परते अब खुलकर सामने आने लगी है। इस निर्माण में घटिया सामग्री के इस्तेमाल को लेकर करीब छह महीने पहले डीएम, नगर पालिका अध्यक्ष और प्रमुख सचिव नगर विकास से शिकायत की गई थी लेकिन इसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिसका नतीजा ये हुआ कि श्मशान हादसे में 25 लोगों की जान चली गई लेकिन अब इस घटना की जांच के लिए 5 सदस्यों की टीम काम कर रही है और जल्द ही डीएम को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।