यूपी पुलिस में ऐसे दारोगा भी, असलहा ऑफिस में किया हंगामा, फिर इन्स्पेक्टर को मारा थप्पड़


  • अहलहा ऑफिस में दारोगा ने किया हंगामा, समझाने पहुंची पुलिस तो कर दी पिटाई
  • आरोपी दारोगा प्रवीण पांडेय को बदसलूकी के आरोप में निलंबित कर दिया गया है
  • बताया गया है कि आरोपी दारोगा नशे में था, प्रतिलिपि मांगने पर किया था हंगामा
मथुरा। उत्तर प्रदेश पुलिस अपने कारनामों की वजह से हमेशा सुर्खियों में रहती है। हर जिले से तमाम किस्से सामने आते हैं। मथुरा में एक दारोगा ने दूसरे दारोगा को थप्पड़ मार दिया। थप्पड़ कांड सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। दारोगा की गुंडई के इस मामले में एसएसपी ने सख्त रुख अपनाया है। आरोपी दारोगा पर एसएसपी गौरव ग्रोवर ने कार्रवाई की है। दारोगा को सरकारी कार्य में बाधा और बदसलूकी के आरोप में निलंबित कर दिया गया है। इसके साथ ही दारोगा प्रवीण पांडेय के खिलाफ विभागीय जांच भी कराने के निर्देश दिए गए हैं। मामला मथुरा कलक्ट्रेट परिसर के असलहा ऑफिस के सामने का है। उत्तर प्रदेश पुलिस में तैनात उपनिरीक्षक प्रवीण पांडेय कलेक्ट्रेट कंपाउंड स्थित असलहा ऑफिस में अपने शस्त्र के लाइसेंस का स्थानांतरण एवं नवीनीकरण कराने आए थे। यहां पर जब असलहा बाबू ने उनसे किताब और चालान की प्रतिलिपि मांगी तो वह नाराज हो गए और हंगामा करते हुए ऑफिस में तोड़फोड़ शुरू कर दी। दारोगा के इस हंगामे की सूचना जिलाधिकारी और पुलिस को दी गई। सूचना मिलने के बाद सदर बाजार से वरिष्ठ उपनिरीक्षक सुनील कुमार जोशी, उपनिरीक्षक विपिन गौतम सहित पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। जब प्रवीण पांडेय को वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने समझाने का प्रयास किया तो खाकी के रौब में उसने सुनील कुमार जोशी को थप्पड़ मार दिया। इसके बाद वहां मौजूद पुलिसकर्मी आरोपी दारोगा को जीप में बैठाकर थाने ले गई। बताया जा रहा है कि आरोपी दारोगा नशे की हालत में था। नशे की हालत में उसने हंगामा किया था। असलहा बाबू मोहन स्वरूप त्रिपाठी ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी जिलाधिकारी नवनीत कुमार चहल को दी है।