किसानों की ट्रैक्टर रैली में शामिल खाप चौधरी सुरेंद्र सिंह पर ट्रैक्टर चढ़ाने की कोशिश


सहारनपुर। दिल्ली सहारनपुर हाईवे 709 बी पर सोमवार को किसानों की ट्रैक्टर रैली के साथ जा रहे सुरेंद्र सिंह पर ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे के पास ट्रैक्टर चढ़ाने का प्रयास किया गया। लेकिन बागपत एएसपी मनीष मिश्र और एडीएम अमित कुमार द्वारा उनकी जान बचाई गई। युवक की पहचान एक किसान के रूप में ही हुई है, जिसको अन्य किसानों के आग्रह करने पर छोड़ दिया गया। माना जा रहा है कि प्रशासन की जरा सी चूक हो जाती तो बड़ी घटना हो सकती थी। शामली और बड़ौत से चलकर हजारों की संख्या में किसानों की ट्रैक्टर रैली सोमवार को दिल्ली सहारनपुर हाईवे से इस्टर्न पेरिफेरल एक्प्रेसवे पर पहुंची थी। इसमें खाप चौधरी सुरेंद्र सिंह भी शामिल थे। प्रशासन द्वारा खाप चौधरी से किसानों को ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे से जाने का आग्रह किया गया था। इसके बाद खाप चौधरी सुरेंद्र सिंह किसानों के ट्रैक्टर ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे से जाने का आग्रह कर रहे थे। अचानक से एक ट्रैक्टर आया जिसने सड़क के बीच खड़े खाप चौधरी सुरेंद्र सिंह पर ही ट्रैक्टर चढ़ाने का प्रयास किया। पास में खड़े एडीएम अमित कुमार व एएसपी मनीष मिश्र नेउनको बचा लिया। इस दौरान उन्होंने खुद भी भागकर जान बचाई। इसके बाद खाप चौधरी व समर्थकों ने युवक को घेर लिया और उसकी जमकर धुनाई कर दी। खाप चौधरी से भी युवक की हाथापाई हुई। इंस्पेक्टर बागपत ने काफी हंगामे के बाद युवक को हिरासत में ले लिया। युवक से कड़ाई के साथ पूछताछ की गई तो उसने अपनी पहचान किसान के रूप में ही बताई। इसके बाद अन्य किसानों के कहने पर युवक ने माफी मांगी। फिर आरोपी युवक को छोड़ दिया गया। दरअसल युवक का कहना था वह नहीं जानता था कि वह देश खाप चौधरी सुरेंद्र सिंह हैं।