थाना लोनी पुलिस ने रंगदारी मांगने वाले 02 अभियुक्तो को किया गिरफ्तार


गाजियाबाद ब्यूरो। थाना लोनी पुलिस द्वारा कार्यवाही करते हुए टिम्बर व्यापारी से 40 लाख रुपये की रंगदारी मांगने वाले 02 अभियुक्त पवन पुत्र सुखवीर नि0 तहसील के पास खन्नानगर लोनी गा0बाद 2. खुर्शीद पुत्र शौकत अली नि0 उपरोक्त को धन्नूराम कट के पास से दिनांक 23.02.2021 को गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्त पवन उपरोक्त के कब्जे से 01 तमंचा 12 बोर मय दो जिन्दा कारतूस 12 बोर नाजायज बरामद हुआ है। आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। 
घटना का संक्षिप्त विवरण- दिनांक 03.02.2021 को वादी श्री विनोद कुमार गुप्ता पुत्र श्री गंगा प्रसाद नि0 मैसर्स लक्ष्मी टिम्बर स्टोर लोनी ने थाना हाजा पर सूचना दी कि मेरे मोबाइल न0 9313222312 पर मो0न0 7379753818 से कॉल कर 40 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गयी है, न देने पर जान से मारने की धमकी दी जा रही हैइस सूचना पर तत्काल मुकदमा अ0स0 134/21 धारा 386/507 IPC दर्ज किया गया तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा रंगदारी मांगने वालो की धरपकड हेतू 4 टीमो का गठन किया गया, जिसमे उनके द्वारा अपनी स्पेशल टीम भी लगाई गयी थाना लोनी पुलिस व स्पेशल टीम द्वारा संयुक्त प्रयास करते हुए सर्विलांस की मदद से घटना का खुलासा करते हुए दिनांक 14.2.21 को फर्जी आईडी पर सिम बेचकर एक्टीवेट करने वाले अभियुक्त 1. दिवाकर 2. अवनीश 3.हारुन निगण लखीमपुर खीरी को गिरफतार कर जेल भेजा जा चुका है। तथा मुख्य अभियुक्त पवन व खुर्शीद को संयुक्त टीम द्वारा आज गिरफतार किया गया है। जिनके द्वारा अपने जुर्म का इकबाल किया है।
पूछताछ का विवरण
पूछताछ करने पर अभियुक्त पवन द्वारा बताया गया कि मै बिनोद गुप्ता की दुकान सामने रहने वाले राजेन्द्र वर्मा के यहा ड्राईवरी का काम करता हुँ, वही से मेरा उठना बैठना बिनोद गुप्ता के यहाँ भी था जिनके बारे में मुझे पूरी जानकारी थी, कुछ दिन पहले से मेरी नौकरी छुट गयी और मेरे अन्दर कुछ गलत शौंक/आदते पड गई थी जिनकी पूर्ति करने के लिए मैने अपने साथी खुर्शीद से बात की थीखुर्शीद उत्तर प्रदेश की पूर्वी जिलो मे जूते व रेडीमेड कपडो की फड लगाता हैमैने खुर्शीद से एक सिम लाने के लिये कहा था, लेकिन खुर्शीद कहने लगा दोनो साथ चलकर ले आते है, फिर हम दोनो खीरी लखीमपुर जाकर फर्जी आईडी पर उपरोक्त मोबाईल नम्बर का एक सिम खरीदा था उसी सिम से मैने व मेरे साथी खुर्शीद ने योजना के मुताबिक बिनोद गुप्ता को जान से मारने की धमकी देते हुए 40 लाख रुपये की रंगदारी मांगी थी।