सिंघू बॉर्डर पर 10 लेवल का बैरिकेड, मीडिया की एंट्री बंद


राजीव गौड,(दिल्ली ब्यूरो)। किसानों के आंदोलन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने सिंघू बॉर्डर पर सुरक्षा और कड़ी कर दी है। पुलिस ने किसानों को दिल्ली आने से रोकने के लिए बॉर्डर पर 10 लेवल की बैरिकेडिंग की है। प्रदर्शन स्थल को कंटीले तारों से घेर दिया गया है। साथ ही सड़कों पर बड़े-बड़े डिवाइडर रखकर भी रास्तों को बंद कर दिया गया है। किसानों के प्रदर्शन स्थल तक कोई पहुंच नहीं सके, इसके लिए मीडिया को भी दूर रखने की योजना बनाई गई है। दिल्ली पुलिस ने कानून-व्यवस्थान बनाए रखने के लिए मीडिया पर भी मंच से एक किलोमीटर दूर रहने की ही पाबंदी लगा दी है। दिल्ली पुलिस की कड़ी सुरक्षा सिंघू बॉर्डर के आसपास की सड़कें भी बंद कर दी गई हैं, जिससे किसानों के अलावा यहां रहने वाले आम लोगों को भी परेशानी उठानी पड़ रही है। हाईवे को जोड़ने वाली सड़कों के बंद होने से पूरे इलाके में आवाजाही पर असर पड़ा है। सुरक्षा के मद्देनजर स्थानीय लोगों को भी मुख्य सड़क पर आने की इजाजत नहीं दी जा रही। रात से ही इन सड़कों पर लोगों की आवाजाही बंद है। गौरतलब है कि कृषि कानूनों के खिलाफ दो महीने से अधिक समय से प्रदर्शन कर रहे किसानों को दिल्ली में आने से रोकने के लिए प्रशासन और पुलिस ने कई इंतजाम किए हैं। इसके तहत सिंघू, गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर के आसपास के इलाकों में इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है। किसानों के संभावित प्रदर्शन पर काबू पाने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस और सुरक्षाबल के जवानों को बॉर्डर पर तैनात कर दिया गया है। पुलिस ने सड़कों पर रोड डिवाइडर के बीच कंक्रीट डालकर रास्तों को जाम कर दिया है। साथ ही रोड पर कीलें लगा दी हैं, ताकि किसान दिल्ली की तरफ न आ सकें।