फर्जी पासपोर्ट पर गया था विदेश, 32 साल बाद कनाडा ने किया डिपोर्ट, 18 साल जेलों में कटी


नई दिल्ली। करियर बनाने की चाह में फर्जी पासपोर्ट पर पोलैंड गया एक शख्स 32 साल वापस लौटा। जब वह पैसा कमाने की चाहत में भारत से गया था तो उस वक्त वह महज 22 साल का था। अब उसकी उम्र 54 साल हो चुकी है। इन 32 सालों में से 18 साल उसकी जिंदगी कैलिफोर्निया और कनाडा की जेलों में कटी। उसे कनाडा से डिपोर्ट किया गया और दिल्ली पहुंचते ही पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। आईजीआई एयरपोर्ट के डीसीपी राजीव रंजन ने बताया कि आरोपी एस. सिंह (54) लुधियाना का रहने वाला है। यह 1989 में किसी और के नाम पर बने पासपोर्ट पर दिल्ली एयरपोर्ट से सबसे पहले पोलैंड जाने में कामयाब हो गया था। वहां से वह कैलिफोर्निया चला गया। 10 साल से भी अधिक समय तक उसने वहां ट्रक चलाया और दूसरे कई काम किए।
2001 में कैलिफोर्निया में हुए एक झगड़े में एक शख्स मारा गया। इस मामले में उसे वहां 17 साल की सजा हुई। इसके बाद 2018 में वह अवैध रूप से कनाडा चला गया। वहां उसने अपना जीवन-यापन शुरू किया था। कुछ समय बाद वह पकड़ा गया। उसे करीब एक साल तक कनाडा की जेल में रहना पड़ा। उसे अब जाकर भारत डिपोर्ट किया गया। पुलिस का कहना है कि एस. सिंह को चार दिन के रिमांड पर लिया गया है। उस एजेंट की तलाश की जाएगी, जिसकी मदद से 1989 में फर्जीवाड़ा करके वह विदेश गया था।