मेरठ में 4 बच्चों के बाप के लिए थाने में भिड़ीं पत्नी और प्रेमिका, पुलिस ने पति को भेजा हवालात


मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के परतापुर में चार बच्चों के बाप को पड़ोसन से इश्क लड़ाना भारी पड़ गया। प्रेमिका के साथ पति को रंगे हाथ दबोचने के बाद उसकी पत्नी ने अपने बच्चों के साथ थाने पर हंगामा कर दिया। पीछे-पीछे अपने बच्चों को लेकर थाने पहुंची दूसरी महिला भी युवक पर अपना हक जताते हुए उसकी पत्नी से उलझ गई। थाने में घंटों चली 'पंचायत' के बावजूद समस्या का कोई हल नहीं निकला, जिसके बाद पुलिस ने 'आशिक मिजाज' युवक को शांति भंग की धारा में जेल भेज दिया। दरअसल, परतापुर के घाट गांव का निवासी अरविंद चार बच्चों का बाप है। कुछ साल पहले ही अरविंद के पड़ोस में एक महिला रहने के लिए आई थी। तीन बच्चों की मां इस महिला का अपने पति से विवाद चल रहा था, जिसके चलते वह उसे छोड़ चुकी थी। इसी दौरान अरविंद और महिला के बीच अवैध संबंध बन गए।
'प्यार' में भूल चुका था घर-बार
बताया जाता है कि अरविंद पर महिला के इश्क का ऐसा भूत चढ़ा कि वह अपने परिवार को भूल बैठा। घर से काम पर जाने का बहाना करके अरविंद अक्सर महिला के घर पर पड़ा रहता था। बुधवार की सुबह भी अरविंद काम पर जाने की बात कहकर घर से रवाना हुआ था लेकिन इसके बाद वह अपनी प्रेमिका के घर पहुंच गया। अरविंद के पीछे-पीछे ही उसकी पत्नी रजनी भी वहां आ धमकी और अपने पति को महिला के साथ रंगे हाथ दबोच लिया।
थाने में भिड़ीं दोनों महिलाएं
घटना के बाद गुस्साई अरविंद की पत्नी रजनी अपने चारों बच्चों सहित परतापुर थाने जा धमकी, जहां हंगामा करते हुए महिला ने अपने पति के खिलाफ तहरीर दे दी। हालांकि, कहानी मेंं ट्विस्ट तब आ गया, जब अरविंद की प्रेमिका भी अपने तीन बच्चों के साथ थाने जा पहुंची। दोनों ही महिलाएं युवक पर अपनी-अपनी दावेदारी जताते हुए आपस में भिड़ गईं। इसके बाद पुलिस ने दोनों पक्षों के बुजुर्गों को भी थाने में बुलाया। थाने में दोनों पक्षों के बीच घंटों 'पंचायत' चली लेकिन दोनों ही महिलाएं अरविंद के साथ रहने की बात पर अड़ी रहीं। इसके बाद समस्या का कोई हल ना निकलता देख पुलिस ने युवक को हवालात में डाल दिया। एसओ सतीश कुमार ने बताया कि आरोपी युवक का शांति भंग की धारा में चालान किया जा रहा है।