दिल्ली में 'लव जिहाद'? शादी से इनकार किया तो आरोपी ने हथौड़े से मारकर की हत्या,आरोपी फरार


  •  जिस लईक खान को रहने के लिए घर दिया, बेटा माना उसने ही विश्वासघात किया
राजीव गौड़,(दिल्ली ब्यूरो)। राजधानी दिल्ली में कुछ दिन पहले ही रिंकू शर्मा हत्याकांड सुर्खियों में था। इस मामले को लेकर दिल्ली में तनावपूर्ण माहौल हो गया था। अब ऐसा ही एक और मामला सामने आ रहा है। दिल्ली के बेगमपुर इलाके में शुक्रवार शाम 17 साल की एक लड़की की बेरहमी से हत्या कर दी गई। दिल्ली बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने भी ट्वीट कर आप सरकार पर हमला बोला है। लड़का और लड़की एक दूसरे को परिवार को पहले से ही जानती थी। ये दोनों अलग-अलग समुदाय से हैं। खबरों की मानें तो लड़की की हत्या उसी के घर में हथौड़े से वार कर हत्या कर दी गई। वारदात के बाद से ही आरोपी फरार हो गया। आरोपी ने लड़की के सामने शादी का प्रपोज भी रखा था जिसे लड़की ने ठुकरा दिया था। गुस्से में आकर लड़के ने लड़की की बेरहमी से हत्या कर दी आरोपी का नाम लइक खान बताया जा रहा है जो अभी फरार है।
‘लव जिहाद’ की घटना सामने आने के बाद क्षेत्र में तनाव व्याप्त है और मामला दो अलग-अलग समुदायों का होने के कारण वहाँ भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है।अब खबर आई है कि नाबालिग लड़की की हत्या करने वाला लईक खान को लड़की के परिवार वाले काफी मानते थे और उसे अपने परिवार का हिस्सा समझते थे। उसके साथ काफी अच्छा व्यवहार किया जाता था। लईक खान बवाना औद्योगिक क्षेत्र में एक फैक्ट्री में काम करता था। करीब 2 वर्ष पहले उसकी मुलाकात मृतका से हुई थी, जो अपने सहेली के साथ वहाँ रहती थी। उसी सहेली के घर पर वो अक्सर जाता था और वहीं पर उसकी मुलाकात मृतका से हुई थी। बताया गया है कि वो काफी कम समय में लड़की के परिवार वालों के साथ घुल-मिल गया था। जब उसके पास घर नहीं था, तब इसी लड़की के परिजनों ने उसे आशियाना दिया था। लईक कई दिनों तक पीड़ित परिवार के घर में रहता था और वहीं से काम करने भी जाता था। पीड़ित पिता ने कहा कि लईक को उन लोगों ने अपने बेटे से भी बढ़ कर माना, लेकिन उन्हें नहीं पता था कि वो इतना बड़ा विश्वासघात करने वाला है। वहीं मृतका के भाई ने भी बताया कि लईक खान ने फोन पर उसकी बहन को धमकी दी थी कि अगर उसने निकाह का प्रस्ताव नहीं माना तो वो उसे जान से मार डालेगा। मृतका ने अपनी माँ को शुक्रवार (फरवरी 19, 2021) को ही बताया था कि उसे फोन पर जान से मार डालने की धमकी दी गई थी, लेकिन परिवार को नहीं पता था कि इतनी जल्दी वो इतना बड़ा कदम उठा लेगा। आस-पास के लोगों का भी कहना है कि परिवार जिस पर इतने दिनों से भरोसा किए हुआ था, उसी ने ज़िंदगी में न भूलने वाला गम दे दिया।
रोहिणी के डीसीपी पी.के. मिश्रा ने कहा, 'संदिग्ध और पीड़ित दोनों के परिवार बवाना में पड़ोसी थे। एक साल पहले लड़की का परिवार बेगमपुर में रहने लगा था। हमने लाइक को गिरफ्तार करने के लिए कई टीमों का गठन किया है। पुलिस ने कहा कि हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है और आगे की जांच जारी है। डीसीपी का कहना है कि अभी तक सेक्सुअल असाल्ट की बात सामने नहीं आयी है। पुलिस ने लड़की के शव का पोस्टमॉर्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया, जिसके बाद परिवार ने लड़की का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।