पत्रकार मनदीप पूनिया को मिली जमानत, लाइव कवरेज के दौरान दिल्ली पुलिस ने किया था गिरफ्तार


नई दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली में किसान आंदोलन की कवरेज कर रहे फ्रीलांस जर्नलिस्ट मनदीप पुनिया को जमानत मिल गई है। दिल्ली की एक अदालत ने पुनिया की जमानत मंजूर कर दी है। मनदीप पुनिया को 30 जनवरी को दिल्ली पुलिस ने सिंघु बॉर्डर से गिरफ्तार किया था। 
पुनिया पर लगा था आरोप
पूनिया को शनिवार को सिंघू बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन स्थल पर तैनात पुलिसकर्मियों के साथ कथित तौर पर दुर्व्यवहार करने के आरोप में रविवार को गिरफ्तार किया गया था। पूनिया को हिरासत में लिए जाने के एक दिन बाद पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उनके वकील अकरम खान ने कहा था कि सोमवार को उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई होगी।
पुलिस ने दर्ज की थी एफआईआर
पुलिस की ओर से दर्ज एफआईआर में लिखा गया है, 'पुलिस के साथ हाथापाई' और 'इनमें से एक ने कॉन्सटेबल राजकुमार को प्रदर्शन स्थल की ओर खींचा।' जब पुलिस ने 'परिस्थिति को नियंत्रित करने के लिए सीमित बल प्रयोग किया तो वह आदमी, जो हमारे कॉन्सटेबल को खींच रहा था, नाले में गिर गया।' एफआईआर में आगे कहा गया है, 'उस शख्स की पहचान मनदीप पूनिया के रूप में हुई है... पूनिया और उनके साथ आए प्रदर्शनकारी पुलिस को उनका कर्तव्य निभाने से रोका और उन्हें धक्का दिया।