ज्योतिर्गमय अंजुमन संस्थान गगरिया, पूर्णियाँ के तत्वाधान में स्काउट भवन जिला स्कूल में एक समारोह आयोजित


पूर्णियाँ।  रविवार दिनांक 31-01-2021 दिन को ज्योतिर्गमय अंजुमन संस्थान गगरिया, पूर्णियाँ के तत्वाधान में स्काउट भवन जिला स्कूल, पूर्णियाँ में आयोजित एक समारोह में युवा ग़ज़लकारा अंजु दास गीतांजलि द्वारा लिखी गई ग़ज़ल पुस्तक ज्योतिर्गमय अंजुमन ग़ज़ल संग्रह -०१ जो बिहार हिंदी राजभाषा निदेशालय , बिहार सरकार,पटना द्वारा अनुदानित है, का लोकार्पण किया गया। इस सास्वत समारोह की अध्यक्षता बिहार के वरिष्ठ हास्य कवि परमेश्वर गोयल उर्फ काका बिहारी ने की। समारोह में ज्योतिर्गमय अंजुमन संस्थान द्वारा कटिहार से - डॉ० अनवर इरज़ ( मुख्य अतिथि ) ,पूर्णियाँ से - गोपाल चन्द्र घोष मंगलम, किशनगंज से - डॉ० पी०पी० सिन्हा, अररिया से - अजय कु० अकेला एवं भागलपुर से- डॉ० रमेश आत्मविश्वास को खेतीश चन्द्र दास"राम बाबु" स्मृति सम्मान के अंतर्गत अंग वस्त्र,प्रशस्ति पत्र एवं मोमेंटो से सम्मानित किया गया। इस समारोह में सम्मानित कवियों ने ग़ज़लकारा अंजु दास गीतांजलि के साहित्य सफ़र के विषय में अपने - अपने वक्तव्य रखे। ग़ज़लकारा अंजु दास गीतांजलि द्वारा ज्योतिर्गमय अंजुमन संस्थान एवं अपने स्वसुर खेतीश चन्द्र दास "राम बाबु" के जीवन संघर्ष के विषय में विस्तार से बताई की कैसे वे जनमानस के मसीहा बने और समाज के लिए जनहित में उनके द्वारा किए गए कार्यों की विस्तार से चर्चा की एवं उनके अधूरे सपनों को पूरा करने का संकल्प ली। संस्थान के आयोजक श्री संजय कुमार दास एवं संयोजक श्री शैलेश प्रजापति शैल ने भी विस्तार से अपनी - अपनी बातों को रखा। ग़ज़लकारा के पिता श्री मणिकांत मंडल ने भी अपने वक्तव्य रखे एवं अपनी पुत्री को आशीर्वाद दिए। समारोह के दूसरे सत्र में कव्यपाठ किया गया। इस अवसर पर अतुल मल्लिक अनजान, कुमार प्रकाश,अनुपमा अधिकारी अनु, उमेश पंडित उत्पल,शमशाद जिया,बाबा बैद्यनाथ झा,श्याम देव राय, गौरी शंकर पूर्ववर्ती, अजुकुर रहमान सरिक,ठाकुर तैश झा, प्रो० क़ासिम अख़्तर,प्रकाश मणि, दिनकर दीवाना, लक्ष्मी नारायण मधुलक्ष्मी,त्रिलोकीनाथ दीवाकर, प्रीतम विश्वकर्मा'कवियाठ' समेत दर्जनों कवि एवं सहित्यकार उपस्थित थे।