गाजियाबाद में अब चौकी इंचार्जों को भी उठाना होगा जनता का फोन


सूर्य प्रकाश,(गाजियाबाद)। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने जनहित में उठाया गया एक और कदम- समस्त चौकी इंचार्ज की जवाबदेही बढ़ाई गई है।  थानों के एसएचओ की तरह अब पुलिस चौकियों के इंचार्ज भी कानून व्यवस्था व अन्य मुद्दों को लेकर जवाबदेह होंगे। कोई चौकी प्रभारी अपनी इस जिम्मेदारी से बच न सके, इसके लिए एसएसपी ने नया प्रयोग करते हुए सभी चौकी प्रभारियों को सीयूजी नंबर जारी किए हैं। एसएसपी कलानिधि नैथानी का कहना है कि सभी चौकी प्रभारियों के सीयूजी नंबर की कंट्रोल रूम से मॉनिटरिंग होगी। कोई भी पुलिस चौकी प्रभारी अपना सीयूजी नंबर बंद नहीं रख सकेगा।बता दें कि पूर्व में कुछ पुलिस चौकी इंचार्जों के बीएसएनएल के सीयूजी नंबर जारी हुए थे, लेकिन नेटवर्क इश्यू के चलते वह कारगर साबित नहीं हो सके। ऐसे में अन्य मोबाइल नेटवर्क कंपनी से टाईअप कर सभी चौकी प्रभारियों को नए सीयूजी नंबर जारी किए गए हैं। एसएसपी कलानिधि नैथानी का कहना है कि जनसुनवाई में बेहतरी लाने एवं ट्रेफिक चालान व अन्य ऐप के प्रचलन में बढ़ोतरी के संबंध में चौकी इंचार्ज सीधे जिम्मेदार हों, साथ ही जनमानस के प्रति सुलभ तरीके से फोन कॉल पर उपलब्ध रहें, इसके लिए यह कदम उठाया गया है। चौकी प्रभारियों के सीयूजी नंबर कॉलिंग के साथ-साथ डाटा पैकेज सहित सिम कार्ड आवंटित किए गए हैं। एसएसपी का कहना है कि यदि कोई दरोगा किसी चौकी से स्थानांतरित भी होता है तो उस चौकी का सीयूजी नंबर वही रहेगा ऐसे में लोगों को सहूलियत होगी।
रविवार तक एक्टिवेट हो जाएंगे सभी सीयूजी नंबर
एसएसपी ने 24 घंटे में उपलब्ध सीयूजी मोबाइल नंबर को आवंटित करने एवं प्रत्येक दशा में रविवार तक एक्टिव करने के आदेश जारी किए हैं। एसएसपी द्वारा उपरोक्त नंबरों को सार्वजनिक स्थलों जैसे चौकी, थाना, बस अड्डा आदि पर भी सार्वजनिक करने के आदेश दिए गए हैं ताकि आकस्मिक स्थितियों में लोग सीधे अपने चौकी इंचार्ज से संपर्क कर सकें।