रिश्वत मांगने के मामले में साइबर क्राइम थाने के एसआई सहित सभी छह पुलिसकर्मी निलंबित


गौतमबुद्ध नगर। नोएडा में एक कंपनी के तीन कर्मचारियों का अपहरण कर फिरौती मांगने वाले मामले में गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने आरोपी एसआई सहित सभी छह पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया है। इसके आलावा कमिश्नर ने पूरे मामले की जांच करने के सख्त आदेश दिए है।
सेक्टर-65 की एक कंपनी की ओर से जानकारी दी गई कि उनके कर्मचारियों का अपहरण करके रंगदारी मांगी जा रही थी। पुलिस ने तत्काल छानबीन शुरू की थी। जिसमें पता चला कि लखनऊ से संचालित होने वाले नोएडा के साइबर थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर चेतन प्रकाश और 6 कॉन्स्टेबल ने कर्मचारियों को उठाया था। उन्हें छोड़ने की एवज में पैसा मांगा जा रहा था। तत्काल पुलिस ने कार्रवाई की थी। सोनू और नितिन चौधरी नाम के दो लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इनमें सोनू ओयो होटल का मैनेजर है और नितिन चौधरी कॉन्स्टेबल है। सब इंस्पेक्टर चेतन प्रकाश और चार अन्य कॉन्स्टेबल अभी फरार हैं। डीसीपी ने बताया कि इस मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम और आईपीसी की धाराओं के तहत मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है। सभी फरार पुलिस कर्मियों की तलाश की जा रही है। उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पूरे प्रकरण के बारे में पुलिस मुख्यालय और शासन को जानकारी दे दी गई है। डीसीपी ने बताया कि कंपनी मैनेजमेंट की ओर से पुलिसकर्मियों को दो लाख रुपये दिए जा चुके हैं। पुलिस वाले कंपनी कर्मचारियों को छोड़ने की एवज में और ज्यादा पैसे की मांग कर रहे थे। सोमवार की दोपहर बाद इन दो लोगों को नोएडा स्टेडियम के पास से गिरफ्तार किया गया है। बाकी पुलिस वालों के बारे में पता लगाने के लिए उनसे पूछताछ की जा रही है।