सोशल मीडिया पर नियंत्रण करना चाहता है ड्रैगन, क्लबहाउस’ ऐप पर चीन ने लगाया बैन


बीजिंग।चीन ने सोशल मीडिया एप क्लबहाउस के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। इस एप के जरिए प्रयोक्ता ताइवान और देश के अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय के साथ सलूक समेत संवेदनशील विषयों पर चर्चा करते हैं। ‘क्लबहाउस’ समेत हजारों वेबसाइट और सोशल मीडिया एप पर रोक लगायी गयी है। इस कदम के जरिए सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी सोशल मीडिया पर नियंत्रण करना चाहती है कि चीन के लोग क्या देखें और क्या पढ़ें। चीन में इंटरनेट संबंधी पाबंदी से जुड़े फैसलों पर नजर रखने वाले अमेरिका के एक गैर लाभकारी समूह ‘ग्रेट फायर डॉट ओआरजी’ के मुताबिक बीजिंग में सोमवार को शाम सात बजे के बाद प्रयोक्ताओं के एप के इस्तेमाल पर रोक लगा दी गयी। राष्ट्रपति शी जिनपिंग के नेतृत्व वाली सरकार ने ‘इंटरनेट फिल्टर’ को लागू किए जाने से इनकार किया लेकिन विदेश के शोधकर्ताओं को सरकारी नियंत्रण वाली चाइना टेलीकॉम लिमिटेड के सर्वर तक पहुंच को रोकने के संकेत मिले हैं। ‘क्लबहाउस’ एप के जरिए चीन के प्रयोक्ताओं को राजनीतिक रूप से संवेदनशील मुद्दों पर अपनी बात रखने का मौका मिलता है। दूसरे सोशल मीडिया एप की तुलना में इस पर लोग सीधी बातचीत कर सकते हैं और चीन के प्रयोक्ता ताइवान के लोगों से बात कर पाते हैं। सोशल मीडिया एप पर चीन के उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र शिनजियांग में मुस्लिमों को शिविरों में रखे जाने समेत कई मुद्दों पर प्रयोक्ता चर्चा कर रहे थे। सत्तारूढ़ दल फेसबुक, ट्विटर समेत अन्य सोशल मीडिया और मानवाधिकार, तिब्बत के मुद्दे, लोकतंत्र के समर्थकों, कार्यकर्ताओं एवं समाचार संगठनों से जुड़े हजारों वेबसाइट पर भी रोक लगा चुका है।