एसएसपी ने सभी राजपत्रित अधिकारियों के साथ की मासिक बैठक,दी सख्त हिदायत


सूर्य प्रकाश,(गाजियाबाद)। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने जनपद के राजपत्रित अधिकारियों के साथ मासिक समीक्षा गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें निम्न एजेंडा बिंदुओं पर समीक्षा उपरांत विस्तृत दिशा निर्देश दिए गए।
1-क्षेत्राधिकारी द्वारा की जा रही विवेचना का अध्यवधिक विवरण
2-लंबित प्रारंभिक जांच तथा 14(1) की कार्रवाई
3-मानवाधिकार आयोग/ महिला आयोग/ एससी- एसटी आयोग/ अल्पसंख्यक आयोग/ बाल संरक्षण आयोग/ सफाई कर्मचारी आयोग/ पिछड़ा वर्ग आयोग से संबंधित समस्त लंबित जांच
4-शासन /डीजीपी/ एडीजी/ आईजी परीक्षेत्र/ डीएम स्तर के प्रार्थना पत्रों की जांच
5-आइजीआरएस/ जनशिकायत से प्राप्त प्रार्थना पत्रों की जांच
6-जनसूचना से संबंधित लंबित प्रकरण
7-गोपनीय कार्यालय से संबंधित लंबित शिकायत प्रार्थना पत्र
8-राजपत्रित अधिकारी गण द्वारा पैरवी की जा रही अब लोगों की अध्यावधिक स्थिति
9-अन्य सनसनीखेज चर्चित घटनाओं की समीक्षा
10-टॉप टेन अपराधी के जमानत निरस्तीकरण की समीक्षा
एसएसपी द्वारा सभी अधीनस्थों को सख्त हिदायत दी कि अपराध नियंत्रण व कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ व कर्तव्य पालन में शिथिलता व लापरवाही किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। वहीं उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी कर्मचारियों के उत्साहवर्धन के साथ साथ लापरवाही व कर्तव्य पालन में शिथिलता व अधिक समय जांच लंबित रखने के चलते क्षेत्राधिकारी साहिबाबाद पेशी के सभी कर्मचारियों को पुलिस लाइन स्थानांतरित किया गया। साथ ही सभी पुलिस अधीक्षक/अपर पुलिस अधीक्षक/ क्षेत्राधिकारी को अपने अधीनस्थों के साथ संवाद स्थापित कर प्रभावी नियंत्रण एवं पर्यवेक्षण हेतु निर्देशित किया गया। एसएसपी ने सभी अधीनस्थों से कहा कि पुलिसकर्मी आपस में संवाद बढ़ाएं, एडिशनल एसपी अपने अधीनस्थ कर्मचारियों से अधिक बात करे। वही SHO अपने दरोगा/ सिपाहियों और ग्राम चौकीदार से संवाद करें। तथा महत्वपूर्ण घटनाओं और रंजिशें को चिन्हित करें और उन पर समय से कार्रवाई करें। एफ.आई.आर दर्ज करने में हीला हवाली न करें तथा समय पर एफ.आई.आर. का पंजीकरण करें। इस दौरान पुलिस अधीक्षक ग्रामीण/नगर/यातायात/अपराध एवं सभी क्षेत्राधिकारी, प्रतिसार निरीक्षक, गोपनीय कार्यालय, वाचक एवं अपराध शाखा सर्विलांस टीम आदि मौजूद रहे।