यूपी पुलिस जवानों ने की बेटिकट यात्रा, टीटीई ने मांगा टिकट तो बोले- लदवा दूंगा मुकदमा, पर्ची काटकर रेलमंत्री नहीं बनोगे


बरेली। उत्तर प्रदेश लखनऊ से बरेली आते समय श्रमजीवी ट्रेन में उस वक्त जमकर हंगामा हुआ, जब बिना टिकट यात्रा करते हुए 20 पुलिसकर्मियों को टीटीई ने पकड़ लिया। पहले तो इन सभी पुलिसकर्मियों ने खाकी का रौब दिखाया, लेकिन जब ट्रेन सवार लोग टीटीई के साथ खड़े हो गए तो इन सभी ने जुर्माना भर दिया। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली से राजगीर जाने वाली श्रमजीवी सुपरफास्ट एक्सप्रेस में बरेली से लखनऊ के बीच कुल 45 लोगों को बिना टिकट पकड़ा गया था। इन लोगों में 20 पुलिसकर्मी भी शामिल थे। चेकिंग के दौरान जब इन पुलिस कर्मियों को पकड़ा गया तो वह टीटीई को धमकाने लगे। कुछ ने पुलिस का खौफ दिखाने की कोशिश की। इनमें से एक पुलिसकर्मी ने टीटीई से यह तक कह डाला कि जिस दिन मेरी गिरफ्त में आओगे इतने मुकदमे लदवा दूंगा कि याद करोगे। वहीं टिकट कटाने की बात कहने पर एक अन्य दीवान ने टीटीई से कहा कि अगर वह जुर्माने की पर्ची काट देगा तो रेलमंत्री नहीं बन जाएगा।
हालांकि इन तमाम धमकियों का रेल कर्मचारियों पर असर ना हुआ। वहीं ट्रेन सवार तमाम लोगों ने भी रेलवे स्टाफ का साथ दिया। बाद में सभी ने जुर्माने की रसीद बनवा ली। लोगों से जुर्माना वसूलने से रेलवे को कुल 22350 रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ। टीटीई का कहना था कि यह पुलिसकर्मी खुद को जीआरपी का बताकर ट्रेन में चढ़ जाते हैं। इंस्पेक्टर जीआरपी विजय सिंह राणा ने बताया कि उनके संज्ञान में ऐसा कोई मामला नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर टीटीई और आरपीएफ मदद मांगती है, तो उनको तत्काल सहायता दी जाती है।