कानपुर में धार्मिक पहचान छिपाकर युवती से दोस्ती कर दुष्कर्म करने का मामला, फेसबुक दोस्त केसरिया निकला मोहम्मद आरिफ


कानपुर ब्यूरो। कानपुर में धार्मिक पहचान छिपाकर युवती से दोस्ती कर दुष्कर्म करने का मामला प्रकाश में आया है। युवती ने फेसबुक पर राजवीर केसरिया नाम के युवक से दोस्ती की थी। राजवीर केसरिया ने शादी का झांसा देकर युवती से रेप किया। प्रेग्नेंट होने पर युवती फेसबुक दोस्त पर शादी का दबाव बनाने लगी। युवक ने शादी करने से इंकार कर दिया। पीड़िता ने किसी तरह से उसके परिजनों से सपंर्क किया तो उसे पता चला कि उसका फेसबुक दोस्त राजवीर केसरिया नहीं, बल्कि मोहम्मद आरिफ है। यह सुनकर युवती के होश उड़ गए। पीड़िता ने युवक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।
नौकरी का दिया झांसा
नवाबगंज थाना क्षेत्र में रहने वाली युवती फैशन डिजाइनर है। राजवीर केसरिया नाम से फेसबुक पर आईडी चलाने वाले युवक से फैशन डिजाइनर की दोस्ती हो गई। फेसबुक दोस्त ने पहले तो युवती की नौकरी लगवाने का झांसा दिया था। इसके बाद दोनों की दोस्ती प्रेम-सबंध में बदल गई। इसके बाद शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाए।
केसरिया निकला मोहम्मद आरिफ
गर्भवती होने की बात पीड़िता ने प्रेमी राजवीर केसरिया से बताई और शादी का दबाव बनाने लगी। उसने पीड़िता के साथ गाली-गलौज की और बातचीत करना बंद कर दिया। पीड़िता ने युवक के परिजनों से संपर्क किया तो उसे पता चला कि उसका असली नाम राजवीर केसरिया नहीं है, बल्कि मोहम्मद आरिफ है। वह राजबरेली लालगंज का रहने वाला है।
पुलिस ने लव जिहाद में नहीं दर्ज किया केस
पीड़िता ने युवक के खिलाफ नवाबगंज थाने में तहरीर दी है। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर दुष्कर्म, एससीएसटी एक्ट, गाली-गलौज की धाराओं में केस दर्ज किया है। लेकिन पुलिस ने लव जिहाद के मामले में केस दर्ज नहीं किया है, जबकि युवक ने अपनी धार्मिक पहचान छिपाकर युवती को अपने प्रेम जाल में फंसाया है। नवागंज थानाध्यक्ष देवेंद्र कुमार के मुताबिक आरोपी की तलाश की जा रही है।