बाबरी मस्जिद पक्षकार इकबाल अंसारी ने भी राम मंदिर के लिए किया गुप्‍त दान


  • श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा मंदिर निर्माण के लिए बाबरी मस्जिद पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने दान किया
  • संघ व वीएचपी के कार्यकताओं को इकबाल अंसारी ने राधा-कृष्ण की फोटो वाले बंद लिफाफे को सौंपा
  • उन्होंने कहा अयोध्या में सभी धर्मों के लोग रहते हैं, राम नगरी में राम का मंदिर बन रहा है यह खुशी की बात है
अयोध्या। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के मंदिर निर्माण के लिए चलाए जा रहे समर्पण निधि अभियान के आखिरी दिन बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने भी दान किया है। संघ व वीएचपी के कार्यकताओं को उन्होंने राधा-कृष्ण की फोटो वाले बंद लिफाफे को सौंपा। इसमें उन्‍होंने अपने मरहूम पिता हाशिम अंसारी और परिवार के अन्य सदस्यों के नाम भी लिखे थे। गुप्त दान का कारण बताते हुए उन्होंने कहा मुस्लिम धर्म में साफ लिखा है दान गुप्त होना चाहिए, इसलिए उन्होंने यह परंपरा निभाई है। उन्होंने कहा अयोध्या में सभी धर्मों के लोग रहते हैं। राम नगरी में राम का मंदिर बन रहा है यह खुशी की बात है।
इकबाल अंसारी ने कहा, 'दान देना और लेना हर धर्म की परंपराएं हैं। यहां सभी धर्मों के लोग एक साथ रहते हैं। अयोध्या साधु-संतों और फकीरों की नगरी है। हम सभी लोग एक दूसरे के यहां आते-जाते हैं और धार्मिक कार्यक्रमों में एक दूसरे की मदद भी की जाती है। उन्होंने आगे कहा कि जिस काम में सभी धर्मों के लोग मिलकर जुटते हैं वह कार्य ताकतवर होता है, और समाज में एक अच्छा माहौल बनता है। किसी भी धर्म का धार्मिक काम हो दान खुल कर देना चाहिए।