कमलनाथ के चचेरे भाई-भाभी की हत्‍या में मुख्‍य आरोपी समेत दो अरेस्‍ट


नोएडा। नोएडा के अल्फा-2 सेक्टर में हुई मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ के चचेरे भाई और भाभी की हत्या के मामले में फरार दो अन्य आरोपी मंगलवार को पकड़े गए। पुलिस ने उन्‍हें मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। पुलिस की गोली लगने से घायल हुए दोनों बदमाशों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पकड़े गए बदमाशों के पास से पुलिस ने एक बाइक, नकदी, जूलरी और अवैध हथियार बरामद किया है। पुलिस को सूचना मिली थी कि एक बाइक पर सवार होकर दो बदमाश ग्रेटर नोएडा आ रहे हैं। पुलिस ने डाढ़ा गोलचक्कर पर चेकिंग अभियान शुरू कर दिया। उसी दौरान पुलिस को एक बाइक आती हुई दिखाई दी। पुलिस ने बाइक सवारों को रोकने का प्रयास किया। आरोप है कि बदमाशों ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर भागने का प्रयास किया। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। इस दौरान पुलिस की गोली लगने से बदमाश घायल हो गए। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें धर दबोचा। पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों की पहचान अलीगढ़ निवासी रोहित और महोबा निवासी सुभाष के रूप में की है। पुलिस कमिश्नरेट मीडिया सेल गौतमबुद्ध नगर का कहना है कि दोनों का उपचार अस्पताल में कराया जा रहा है। हालांकि, डबल मर्डर में शामिल पुलिस चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। 
रोहित ने साथियों के साथ की थी वारदात
बता दें कि, अल्फा-2 निवासी सुरेंद्रनाथ (75) और उनकी पत्नी सुमननाथ (64) की 4 फरवरी को देर रात हत्या कर दी गई थी। रविवार को बीटा-2 पुलिस ने विशन और देवा शर्मा निवासी मध्य प्रदेश को अरेस्‍ट किया था। पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया था कि लूट की साजिश रोहित ने रची थी। रोहित का ही सुरेंद्र नाथ के घर आना जाना था। साथ ही रोहित और सुरेंद्र नाथ अक्सर दोनों साथ बैठकर शराब पीते थे। आरोपी रोहित उनसे ब्याज व बाइक गिरवी रखकर उधार रूपये भी लेता था। सुरेंद्रनाथ की पत्नी को रोहित के साथ बैठकर शराब पीना पंसद नहीं था। वह आए दिन विरोध करती थी। पुलिस ने बताया था कि साथ बैठकर शराब पीने, आलीशान कोठी की चमक-धमक और धन के लालच में रोहित ने ही अपने चार साथियों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया था।