डिजिटल बाल मेला में छाई हरियाणा की लाडो


फरीदाबाद। कोरोना महामारी की बीच लंबे समय से घरों में कैद बच्चों के लिए चलाए जा रहे डिजिटल बाल मेले में काफी सारे बच्चो का रूझान सामने आ रहा है। इस डिजिटल बाल मेले में हरियाणा से भाग लेने वाली प्रथम प्रतिभागी बनी। इस बाल मेले के माध्यम से बच्चो में सामाजिक कार्यो में रूचि पैदा करना है। डिजिटल बाल मेला एक ऑनलाइन प्रतियोगिता है।जिसमे सभी बच्चो को मुख्यमंत्री के नाम एक प्रार्थना पत्र लिखना है ओर उनके नाम एक या दो मिनट के वीडियो बनानी है। इस वीडियो और पत्र के माध्यम से सभी का धयान अपने शहर और राज्य में पानी की कमी के बारे में बताना होगा और अपने शहर और राज्य में एस. टी. पी. प्लांट लगाने के लिए कहना है। इस ऑनलाइन प्रतियोगिता में भाग लेकर सृष्टि ने फरीदाबाद ही नही अपितु हरियाणा में भी पानी की कमी का सरकार का धयान इस ओर दिलाया है। बच्चे अपनी प्रतिभा का मंचन बाल मेले के डिजिटल प्लेटफॉर्म पर भी कर रहे है। बाल मेले में लिटिल मिलेनियम स्कूल फरीदाबाद की छात्रा सृष्टि गुलाटी ने राष्ट्रीय स्तर की ऑनलाइन प्रतियोगिता में पार्टिसिपेट किया है। इस प्रतियोगिता का असली उद्देश्य सभी बच्चो का ध्यान सामाजिक कार्यो की ओर दिलाना है ताकि वह भी इस नेक मुहिम में सम्मलित हो सके।
 इस ऑनलाइन प्रतियोगिता में सभी बच्चो को अपने राज्य के मुख्यमंत्री के नाम पानी की कमी का मुद्दा उठाना हैं और अपने शहर और राज्य में पानी की कमी को दूर करने के लिए एस. टी. पी. प्लांट लगवाने के लिए पत्र और वीडियो बनानी है। छोटे बच्चे जो लिख नही सकते उनके माता-पिता में से एक पत्र लिख सकते है और वीडियो बच्चे को बनानी है। जानकरी के अनुसार कक्षा एल.के.जी मे पढ़ने वाली सृष्टि गुलाटी में बहुत ही अच्छे ओर अपने चंचल अन्दाज में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नाम एक पत्र अपने माता- पिता के सहयोग से लिखा और वीडियो के माध्यम से पानी की कमी और उसको दूर करने का निवेदन ओर संदेश दिया। आशा है सरकार इन नन्हे सितारों की बातो की ओर धयान दे ताकि पानी की कमी दूर हो सके। द फ्यूचर सोसयटी के द्वारा इस बाल मेले का आयोजन किया जा रहा है। डिजिटल बाल मेले का आयोजन फ़ेसबुक, ट्विटर , इंस्टाग्राम आदि के माध्यम से किया जा रहा है। द फ्यूचर सोसयटी के सदस्य अनूप ने बताया कि इस तरह के आयोजन से बच्चो में प्रतिभा का भी संचार होता है और वो अपनी बात भी सभी लोगो तक पहुंचा सकते है।