दोस्ती से इनकार करने पर गर्दन तोड़कर की नाबालिग लड़की की हत्या


ग्रेटर नोएडा। प्रपोज डे  के दिन दोस्ती करने से इनकार करने पर सूरजपुर निवासी दलित नाबालिग लड़की (16) की हत्या कर दी गई। उसी दिन नाबालिग का शव घर की छत पर मिला था। मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गले की हड्डी टूटी मिलने पर हत्या का केस दर्ज किया गया था। सोमवार को पुलिस ने पड़ोस में रहने वाले आरोपी गाजीपुर जिला निवासी सुनील यादव को गिरफ्तार कर वारदात का खुलासा किया है। वहीं, नाबालिग के भाई ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट का हवाला देते हुए दुष्कर्म के बाद हत्या का आरोप लगाया है। उसका कहना है कि पुलिस ने एक अन्य आरोपी गोविंद पर कार्रवाई नहीं की है। वहीं, पुलिस का दावा है कि गोविंद की भूमिका की जांच की जा रही है। निजी कर्मचारी व मूलरूप से कन्नौज निवासी युवक सूरजपुर में किराये पर रहता है। 19 जनवरी को युवक अपने परिवार के अन्य सदस्यों को भी सूरजपुर ले आया था। युवक, पत्नी और पिता भी सूरजपुर में ही नौकरी करने लगे थे। इनके नौकरी पर जाने के दौरान युवक की 15 और 11 साल का नाबालिग बहनें कमरे पर ही रहतीं थीं। 8 फरवरी को भी सभी नौकरी पर गए थे और दोनों नाबालिग घर में थीं। शाम करीब 4:30 बजे दोनों नाबालिग बहन कमरे के ऊपर छत पर कपड़े सुखाने गईं थीं। कुछ देर बाद छोटी बहन वापस आकर कमरे पर सो गई। लगभग 6 बजे के करीब जब वह ऊपर पहुंची तो बड़ी बहन का शव छत पर पड़ा था।
पुलिस ने नाबालिग के दोस्त को हिरासत में लिया
नाबालिग लड़की की मौत की सूचना मिलने पर सूरजपुर कोतवाली प्रभारी अजय कुमार की टीम ने मौके पर पहुंचकर पड़ताल की। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा और आसपास लगे सीसीटीवी खंगाले। पुलिस ने इस मामले में नाबालिग के पड़ोस में रहने वाले उसके दोस्त गोविंद को हिरासत में लेकर पड़ताल की। आरोपी ने नाबालिग से दोस्ती और फिर हत्या की वारदात कबूली लेकिन बाद में गहनता से जांच के बाद पुलिस ने दावा किया कि पकड़े गए युवक ने उसकी हत्या नहीं की थी।
आरोपी ने दूसरे युवक के साथ देखकर की वारदात
सीसीटीवी में पुलिस को वारदात के कुछ देर बाद मकान में किराये पर रहने वाले सुनील यादव मकान से बाहर निकलता दिखा। वह दो साथियों के साथ बाइक पर कहीं जाता दिखा। शक होने पर पुलिस ने मामले की पड़ताल की। जिसके बाद पता चला कि सुनील यादव ने दोस्ती से इनकार करने पर नाबालिग की गला दबाकर हत्या कर की थी।
पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हुई दुष्कर्म की पुष्टि
पीड़िता के भाई ने दुष्कर्म के बाद हत्या का आरोप लगाया है। उसके मुताबिक वारदात में गोविंद और सुनील यादव दोनों शामिल थे। उसने कहा है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। उनका कहना है कि एक परिचित चिकित्सक को उन्होंने पोस्टमार्टम रिपोर्ट दिखाई है। भाई के मुताबिक आरोपी सुनील यादव उसकी बहन के पीछे पड़ा था जबकि गोविंद भी उसे बहला-फुसला रहा था। भाई का आरोप है कि हिरासत में लेने के दौरान भी एक आरोपी ने दुष्कर्म की बात कबूली थी।
दुष्कर्म की पुष्टी हुई तो बढ़ा दी जाएगी धारा
पोस्टमार्टम रिपोर्ट के संबंध में विशेषज्ञ से राय ली जाएगी। अगर दुष्कर्म की पुष्टि होती है तो धारा बढ़ा दी जाएगी। मामले में दूसरे आरोपी को हिरासत में लिया गया है। उसकी भूमिका की भी जांच जारी है। अगर उसके खिलाफ साक्ष्य मिलते हैं तो उस पर भी कार्रवाई की जाएगी। एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। - हरीश चंदर, डीसीपी सेंट्रल जोन