सिविल डिफेंसकर्मी को गोलियों से भूना, मौत, मौके पर 20 कारतूस के खाली खोखे मिले



  • 22 साल के युवक को एक दर्जन से ज्यादा गोलियां मारी गईं
  • बवाना थाना इलाके के कटेवड़ा गांव में शनिवार सुबह हत्याकांड
  • किसी राहगीर ने देखी खून से लथपथ लाश देखी, पुलिस को बताया
दिल्ली ब्यूरो। आउटर नॉर्थ जिले के बवाना स्थित कटेवड़ा गांव में शनिवार सुबह सिविल डिफेंस वॉलंटियर की ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई। वह वारदात के समट ड्यूटी कर घर लौट रहे थे। शरीर में एक दर्जन से ज्यादा गोलियां मारी गई हैं। पुलिस ने बॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। शुरुआती तफ्तीश के बाद रंजिश का मामला माना जा रहा है। बवाना थाने में हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। पुलिस आसपास के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालकर आरोपियों की पहचान करने में लगी हुई है।
राहगीर ने पुलिस को की थी कॉल
मृतक की शिनाख्त कटेवड़ा गांव के रहने वाले शशि कादयान (22) के रूप में हुई है। वह सिविल डिफेंस के वॉलंटियर थे, जिनकी तैनाती अलीपुर एसडीएम ऑफिस में थी। शनिवार सुबह करीब 6:00 बजे किसी राहगीर ने गांव के चौक पर खून से लथपथ युवक को देखकर पुलिस को कॉल की थी। पुलिस ने बॉडी को कब्जे में लिया और मौके से कई खोखे बरामद हुए। शशि कादयान माता-पिता और एक बहन के साथ गांव में रहते थे। दो बहनों की शादी हो चुकी है।
रंज‍िश के चलते हुई हत्‍या?
फैमिली ने किसी से दुश्मनी होने की बात से इनकार किया है। हालांकि पुलिस अफसरों का कहना है कि जिस तरह से शशि पर कई गोलियां दागी गई हैं, उससे गहरी रंजिश की वजह से हत्याकांड को अंजाम दिया लगता है। आसपास के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने के बाद अहम सुराग हाथ लगने का दावा किया गया है। पुलिस का कहना है कि जल्द ही हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।