दिल्ली में मीट व्यापारी को 23 गोलियां मारकर हत्या


दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली के दक्षिणपुरी में मंगलवार देर रात बाइक सवार दो बदमाशों ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना के समय पीड़ित युवक कुणाल अपनी दुकान के बाहर खड़ा था तभी आरोपितों ने उस पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। बदमाशों ने कुणाल को 23 गोलियां मारी और उसके प्रतिद्वंदी अमित मद्रासी का नाम लेकर वहां से फरार हो गए। गोलियों की आवाज सुनकर लोगों की भीड़ मौके पर जमा हो गई। मामले की सूचना पुलिस और परिजनों को दी गई।
परिजनों ने कुणाल को अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। अंबेडकर नगर थाना पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।
दक्षिणी जिले के पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि कुणाल अपने परिवार के साथ मदगीर इलाके में रहता था और दक्षिणपुरी में मीट की दुकान चलाता था। मंगलवार देर रात करीब 11.30 बजे वह दुकान बंद कर घर जाने की तैयारी कर रहा था। इसके लिए वह दुकान के बाहर आकर खड़ा हो गया। कुछ देर बाद वहां बाइक पर दो बदमाश पहुंचे और कुणाल के सामने बाइक रोककर पिस्तौल निकाली और उस पर फायरिंग शुरू कर दी। इसबाद दोनों बाइक सवार पिस्तौल लहराते और धमकी देते हुए फरार हो गए।
सड़क पर खून से लथपथ पड़े कुणाल के घरवालों को मौके पर पहुंचे लोगों ने जानकारी दी। घरवाले उसे लेकर अस्पताल पहुंचे जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस को वारदात स्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज मिली है जिसमें एक बाइक व एक स्कूटी से बदमाशों के आने की घटना रिकार्ड हुई है।
गोलियों की आवाज सुनकर घरों से बाहर आए लोग
पुलिस ने मौके पर पहुंच कर लोगों से पूछताछ शुरू की जिसमें सामने आया कि आरोपितों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की। लोगों ने बताया कि पहले तो उन्हें लगा कोई पटाखे छोड़ रहा है। लगातार फायरिंग की आवाज सुनकर वह अपनी छतों पर आ गए तो देखा कि बाइक सवार दो बदमाश दुकान के बाहर कुणाल पर फायरिंग कर रहे थे। बदमाशों ने पांच मिनट से ज्यादा एक जगह पर ही खड़े होकर फायरिंग की और उसके बाद पिस्तौल लहराते हुए फरार हो गए।