हरियाणा पुलिस का अजब दावा, चूहे गटक गए 29 हजार लीटर शराब!


  • फरीदाबाद के थानों के मालखाने से शराब बोतलों व कंटेनरों से गायब मिली
  • फरीदाबाद पुलिस का दावा- ये काम चूहों ने किया, गांजा, अफीम जैसे मादक पदार्थों के डिब्बे भी कुतरे
  • बीते साल 81 हजार लीटर शराब पुलिस ने की थी जब्त
फरीदाबाद। हरियाणा के फरीदाबाद शहर में एक हैरान करने वाली खबर सामने आई है। यहां के थानों के मालखाने से 29 हजार लीटर शराब बोतलों व कंटेनरों से गायब मिली है। पुलिस का कहना है कि ये काम चूहों ने किया है। चूहों ने शराब के साथ-साथ गांजा, अफीम जैसे मादक पदार्थों के डिब्बे व पोटली भी कुतर दिए हैं। दरअसल, एक साल बाद शहर के सभी थानों में जब्त शराब को नष्ट करने के लिए पुलिस कमिश्नर ऑफिस से आंकड़ा जुटाया जा रहा था। इस दौरान पता चला कि मालखानों में चूहों ने आतंक मचा रखा है।
पुलिस आंकड़ों के मुताबिक बीते साल सभी थानों ने करीब 53,473 लीटर देसी शराब, 29,995 लीटर अंग्रेजी शराब, 2804 कैन बियर व 805 लीटर कच्ची शराब जब्त की थी। यह सभी शराब शहर के सभी थानों में दर्ज 824 मुकदमों के तहत जब्त की गई थी। इन शराब को शहर के विभिन्न थानों में जब्त कर मालखानों में रखा गया था। मगर चूहों ने इन्हें भी कुतर डाला और गटक गए।
इस महीने नष्ट की जानी है 2230 लीटर शराब
824 मुकदमों में से 49 मामलों में कोर्ट अपना फैसला सुना चुकी है। ऐसे में पुलिस इसी महीने 982 लीटर देसी शराब, 1169 अंग्रेजी शराब व 30 बियर के कैन नष्ट करेगी। इसे नष्ट करने के लिए पुलिस कमिश्नर की अध्यक्षता में एक समिति बनाई जाएगी। इस समिति में दो अन्य अधिकारी व गणमान्य लोगों को शामिल किया जाएगा।
चूहों ने सबसे ज्यादा देसी व कच्ची शराब की खत्म
पुलिस सूत्रों की मानें तो चूहों ने सबसे ज्यादा देसी शराब की बोतलों को काटा है। इसकी यह भी वजह है कि देसी शराब की बोतलें प्लास्टिक की होती हैं। वहीं कच्ची शराब को भी प्लास्टिक के कंटेनर में रखा जाता है। ऐसे में चूहों ने उन्हें ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। आंकड़ों के मुताबिक चूहों ने देसी व कच्ची शराब मिलाकर करीब 20 हजार लीटर शराब डकार ली है या उनके काटने की वजह से शराब बह गई है। वहीं अंग्रेजी शराब की भी बोतलों के ढक्कन काटकर चूहों ने करीब 09 हजार लीटर जब्त शराब गायब कर दी है।