ऑन डिमांड करते थे किंग कोबरा की सप्लाई, 2 सांप के साथ तस्कर गिरफ्तार


शाहजहांपुर। यूपी के शाहजहांपुर की बंडा पुलिस ने दुर्लभ और सबसे जहरीले ब्लैक किंग कोबरा की तस्करी करने का बड़ा खुलासा किया है। पुलिस ने कर्रखेड़ा गांव के रहने वाले लव कुमार को गिरफ्तार किया है। युवक के पास से दो जहरीले किंग कोबरा बरामद किए गए हैं। पकड़ा गया तस्कर ब्लैक किंग कोबरा को ऑन डिमांड पकड़ता था। जिसके एवज में उसे एक किंग कोबरा पर 50 हजार रुपये मिलते थे।
आरोपी का पिता करता था मदद
दरअसल, पकड़ा गया लव कुमार डिमांड मिलने पर घने जंगलों में जाकर ब्लैक किंग कोबरा की तलाश करता था। ब्लैक किंग कोबरा की तलाश में उसे 10 से 15 दिन तक लग जाते थे। ब्लैक किंग कोबरा की तलाश के इस काम में लव कुमार का पिता हरिओम भी उसकी मदद करता था। वन विभाग की मदद से पुलिस ने जब लव कुमार के घर पर छापा मारा तो लकड़ी के एक बॉक्स में टीम को दो दुर्लभ ब्लैक किंग कोबरा बरामद हुए।
पकड़े गए लव कुमार को हाल ही में 18 पंजे वाले कछुए को पकड़ने का काम सौंपा गया था। जिसके बाद अपने पिता हरिओम की मदद से जंगल के अंदर से बह रही नदी से 18 पंजे वाला कछुआ पकड़ा था। उस कछुए की कीमत भी 50 हज़ार बताई गई है। ब्लैक किंग कोबरा पकड़ने वाले लोग अपने साथ ऐसी जड़ी बूटी रखते थे। जिसकी खुशबू से जहरीले सांप उन्हें काटते नहीं थे।
आरोपी का पिता मौके से फरार
पुलिस अधीक्षक एस आनंद का कहना है कि पकड़े तस्कर लव कुमार के संपर्क में कई राज्यों के लोग शामिल हैं, जो उसे ब्लैक किंग कोबरा पकड़ने की डिमांड भेजते थे और उसी डिमांड पर ब्लैक किंग कोबरा की तलाश की जाती थी। जिसके एवज में एक किंग कोबरा की नकद 50 हज़ार रुपये की धनराशि मुहैया करा दी जाती थी। पुलिस का कहना है कि लव कुमार का पिता हरिओम भागने में सफल रहा। पुलिस का यह भी कहना है कि हरिओम की गिरफ्तारी होने के बाद उन नामों का भी खुलासा होगा, जो किंग कोबरा पकड़ने के लिए इन तस्करों के पास डिमांड भेजते थे।