बागपत में योगी सरकार के 4 साल पूरा होने पर चल रहा था कार्यक्रम, युवती ने की आत्मदाह की कोशिश


बागपत। यूपी के बागपत जनपद में दो बीघा जमीन पर कब्जा न मिल पाने के कारण डिप्रेशन में आयी युवती ने आत्मदाह का प्रयास किया। कलेक्ट्रेट लोकमंच पर यूपी के चार साल कार्यक्रम चल रहा था जिसमें प्रभारी मंत्री धर्मसिंह सैनी भी मौजूद थे। जिलाधिकारी ने युवती को तुरंत विश्वास में लेकर जमीन कब्जा दिलाने का आश्वासन दिया और टीम गठित की है। मामले में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ नोटिस जारी करने के एडीएम को निदेश दिए गए है।
खेकड़ा निवासी विकलांग महिला बृजेश ने बताया कि 1 वर्ष पूर्व फ़खरपुर गांव में उसने 2 बीघा जमीन ग्राम प्रधान हेमचंद को किराए पर दी थी। प्रधान द्वारा 6 महीने के लिए जमीन को किराए पर लिया गया था। लेकिन 1 साल बीत जाने के बाद भी ग्राम प्रधान हेमचंद महिला की जमीन से कब्जा नहीं छोड़ रहा है। महिला को जान से मारने की धमकी तक दी जा रही है पीड़िता ने इसकी शिकायत खेकड़ा तहसील दिवस से लेकर मुख्यमंत्री तक कर डाली, लेकिन कोई कारवाई नही हुई।
डिप्रेशन में युवती ने उठाया गलत कदम
जमीन पर कब्जा न मिल पाने के कारण परिवार डिप्रेशन में चल रहा है। शुक्रवार को पीड़िता की बेटी ने यूपी के चार साल कार्यक्रम के दौरान प्रभारी मंत्री धर्मसिंह सैनी के सामने ज्वलनशील पदार्थ डाल लिया और खुद को आग लगने का प्रयास किया।
डीएम ने दिये कारवाई के निर्देश
जिलाधिकारी राजकमल यादव ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए मामले में तुरन्त कार्रवाई के निर्देश दिए और जमीन कब्जा मुक्त कराने के लिये टीम भेज दी है। लापरवाई के आरोप में सम्बंधित अधिकारियों को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है। वही युवती ने कहा है कि अगर जमीन नही मिली तो वह मुख्यमंत्री से मिलेगी।