कौन है अमरावती की तेलुगू ऐक्‍ट्रेस और एमपी नवनीत कौर राणा, जिन्‍हें मिली शिवसेना से धमकी


मुंबई ब्यूरो। मुंबई में मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्‍फोटक मिलने का मामला महाराष्‍ट्र सरकार के गले की फांस बना हुआ है। इसी बीच अमरावती की सांसद नवनीत कौर ने आरोप लगाया है कि उन्‍हें शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने धमकी दी है। नवनीत कौर ने संसद में सचिन वझे केस उठाया था। हालांकि अरविंद सावंत ने इन आरोपों से इनकार किया है। नवनीत पहले भी आरोप लगाती रही हैं कि शिवसेना के खिलाफ संसद में बोलने पर उन्‍हें धमकी भरे लेटर मिले हैं।
पांच भाषाएं जानती हैं नवनीत
नवनीत कौर का जन्‍म मुंबई में ही हुआ है। 12वीं के बाद उन्‍होंने पढ़ाई छोड़ मॉडलिंग शुरू कर दी थी। वह तेलुगू फिल्‍मों के अलावा कन्‍नड़, मलयालम और पंजाबी फिल्‍मों में भी काम कर चुकी हैं। नवनीत कौर मराठी, पंजाबी, तेलुगू, हिंदी और इंग्लिश बोल सकती हैं।
एमएलए से की थी शादी
साल 2011 में उन्‍होंने अमरावती के बड़नेरा विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय एमएलए रवि राणा से शादी की। यह शादी इसलिए भी खास थी क्‍योंकि उनके साथ 3720 जोड़ों ने सामूहिक विवाह में हिस्‍सा लिया था। इस शादी में तत्‍कालीन सीएम पृथ्‍वीराज चव्हाण और बाबा रामदेव भी मौजूद थे।
शादी के बाद छोड़ी फिल्‍में
शादी के बाद नवनीत कौर ने राजनीति का रुख किया और साल 2014 में उन्‍होंने एनसीपी के टिकट पर चुनाव लड़ा लेकिन वह हार गईं। लेकिन उन्‍होंने हिम्‍मत नहीं हारी और साल 2019 में निर्दलीय के तौर पर चुनाव लड़ा। उन्‍हें कांग्रेस और एनसीपी का सपोर्ट मिला और वह अमरावती से सांसद के रूप में चुन ली गईं। नवनीत ने शिवसेना के दिग्‍गज नेता आनंदराव अडसुल को हराया था।
मास्‍क लगाकर संसद पहुंची थीं
नवनीत कौर पिछले साल मार्च में उस समय चर्चा में आई थीं जब वह मास्‍क लगाकर संसद पहुंची थीं। उन्‍होंने मास्‍क लगाकर ही सवाल पूछे। उनका कहना था कि कोरोना से बचाव के लिए और जागरूकता बढ़ाने के लिए ही उन्‍होंने मास्‍क पहना है। उन्‍होंने सांसदों की स्‍क्रीनिंग पर भी जोर दिया था।
संजय राउत पर भी लगाया आरोप
इस साल फरवरी में नवनीत ने शिकायत दर्ज कराई थी कि किसी ने नॉर्थ एवेन्यू स्थित उनके फ्लैट पर धमकी भरा पत्र छोड़ा है। पत्र में लिखा है कि अगर वह संसद में शिवसेना के खिलाफ बोलती हैं, तो उन्हें गंभीर परिणाम भुगतना होगा। राण की शिकायत के बाद इसे लेकर थाने में मामला दर्ज किया गया है। नवनीत ने शक जताया था कि शिवसेना नेता संजय राउत और शिवसेना के पूर्व सांसद आनंदराव अडसुल ने यह पत्र भिजवाया है।