जलगांव के सरकारी हॉस्टल में महिलाओं के कपड़े उतरवाकर पुलिस ने करवाया न्यूड डांस


जलगांव। महाराष्ट्र के जलगांव में एक बार फिर से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। इस घटना से यह भी पता चल रहा है कि अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि वह महिलाओं को जबरन नग्न करवा कर डांस करवाने की हिम्मत दिखा रहे हैं। ताजा मामला महाराष्ट्र के जलगांव जिले की महिलाओं से जुड़ा हुआ है। जलगांव जिले के सरकारी हॉस्टल में रहने वाली युवतियों के साथ यह सनसनीखेज मामला पेश आया है। आपको बता दें कि पुलिसवालों और कुछ बाहरी लोगों ने हॉस्टल में रहने वाली महिलाओं को न्यूड डांस के लिए मजबूर किया था।
यह मुद्दा आज विधानसभा बजट सत्र के तीसरे दिन सदन में भी उठाया गया। इस मुद्दे को उठाकर विपक्ष में बैठी बीजेपी ने महाविकास अघाड़ी सरकार पर जमकर प्रहार किया। बीजेपी नेता सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि अब महाराष्ट्र में अपराधियों के हौसले सातवें आसमान पर हैं और ऐसा लगता है कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने का समय आ चुका है। उन्होंने कहा कि जिस तेजी से महिलाओं और बच्चियों के साथ बलात्कार और छेड़खानी की घटनाएं सामने आ रही हैं वह बेहद ही खतरनाक हैं। विधानसभा में यह मुद्दा उठाए जाने के बाद महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने इस मामले पर कठोर और निष्पक्ष कार्रवाई का भरोसा भरोसा दिया है।
दरअसल यह मामला जलगांव के आशादीप महिला छात्रावास से जुड़ा हुआ है यहां रहने वाली युवतियों को कपड़े उतार कर नाचने पर मजबूर किया गया था। इससे संबंधित एक वीडियो कलेक्टर अभिजीत राउत को भी सौंपा गया है। अभिजीत राउत ने इस मामले की जांच के आदेश जारी किए हैं। यहां रहने वाली लड़कियों ने आरोप लगाया है कि 1 मार्च को कुछ पुलिसकर्मियों और बाहर से आए हुए लोगों ने उनसे जबरन कपड़े उतारकर डांस करवाया था।