बेसहारा पशुओं से परेशान ग्रामीणों ने मोदीनगर तहसील पर किया प्रदर्शन


मोदीनगर,(गाजियाबाद)। मुरादनगर के सुराना, कुन्हैडा, सुठारी गांव के लोगों ने मंगलवार को तहसील पर प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने डीएम को ज्ञापन सौंपते हुए बेसहारा पशुओं के आतंक से निजात दिलाने की मांग की। डीएम ने ग्रामीणों को समस्या का समाधान कराने का भरोसा दिया। सुठारी गांव निवासी विकास यादव के नेतृत्व में बड़ी संख्या में लोग मंगलवार को तहसील पहुंचे। उनका कहना था कि बेसहारा पशुओं का आतंक गांवों में बढ़ता जा रहा है। गेहूं की फसल पकाव पर है और पशु फसलों को बर्बाद कर रहे हैं। उनका यह भी कहना था कि कई बार गुहार लगाने के बाद भी जब कोई समाधान नहीं हुआ तो उन्होंने पिछले दिनों कुछ पशुओं को व्यायामशाला में बंद कर दिया था। ग्रामीण अपने स्तर पर उन पशुओं के लिए अब तक चारे और पानी की व्यवस्था करा रहे थे, लेकिन अब ग्रामीण इसमें भी अक्षम महसूस कर रहे हैं।
ऐसे में उन पशओं को भी गोशाला में आश्रय दिलाए जाने की जरूरत है। डीएम अजय शंकर पांडेय को नामित ज्ञापन सौंपते हुए ग्रामीणों ने कहा कि बाहर घूम रहे बेसहारा पशुओं को पकड़कर उनको गोशालाओं में आश्रय दिलाया जाना चाहिए। अन्यथा ग्रामीण सड़क पर आ जाएंगे और आंदोलन करने को मजबूर होंगे। इसके अलावा बखरवा विद्यापुर के ग्रामीण शिवकुमार ने डीएम को ज्ञापन दिया। उन्होंने विकास विभाग के अफसरों पर गांव में बनाए गए शौचालयों की सत्यापित सूची उपलब्ध नहीं कराने का आरोप लगाया। डीएम ने इस संबंध में उचित कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया।