एक घंटे में तय होगा लखनऊ से गोरखपुर का सफर, सीएम योगी ने विमान सेवा को दिखाई हरी झंडी


  • 72 सीटर विमान में आज सफर 62 लोगों ने किया सफर
  • गोरखपुर से उड़ने वाले विमानों की संख्या 12 हो गई
  • 1470 रुपए निर्धारित किया गया शुल्क
गोरखपुर। प्रधानमंत्री विमान योजना के तहत यात्रियों के सहूलियत के लिए रविवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर से लखनऊ के लिए विमान सेवा का शुभारंभ किया।इस दौरान नागर विमानन एवं आवासन शहरी कार्य राज्यमंत्री हरदीप सिंह पूरी और मंत्री नंद कुमार नंदी भी मौजूद रहे। इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि हमने छोटे शहरों में फ्लाइट सेवा शुरू करने का काम किया है। इससे हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई जहाज की यात्रा कर सकेगा ।
72 सीटर विमान में आज सफर 62 लोगों ने किया सफर
गौरतलब है कि गोरखपुर से लखनऊ के लिए शुरू हुई 72 सीटर इस विमान में पहले दिन भाजपा और हिंदू युवा वाहिनी के नेताओं सहित 62 यात्री गोरखपुर से लखनऊ के लिए रवाना हुए। वहीं लखनऊ से गोरखपुर आने वाले 67 यात्रियों ने बुकिंग कराई है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने एयरपोर्ट टर्मिनल भवन के विस्तार भूमि का पूजन कर शिलान्यास भी किया।अब विस्तार के बाद टर्मिनल में एक साथ 200 यात्री बैठ सकेंगे।
गोरखपुर से उड़ने वाले विमानों की संख्या 12 हो गई
बता दें लखनऊ के लिए विमान सेवा मिलने के बाद अब गोरखपुर से उड़ान भरने वाले शहरों की संख्या बढ़कर सात हो गई है। वहीं इन सात शहरों में 12 विमान अपनी सेवा देंगी। लखनऊ के लिए डायरेक्ट फ्लाइट शुरू होने के पहले गोरखपुर से छः शहरों के लिए विमान सेवा उपलब्ध थी। इनमें नई दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु,कोलकाता, हैदराबाद, प्रयागराज शामिल था।
1470 रुपए निर्धारित किया गया शुल्क
यात्रियों की सहूलियत को देखते हुए गोरखपुर से लखनऊ और लखनऊ से गोरखपुर का विमान शुल्क 1470 रुपए निर्धारित की गई है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री इस कार्यक्रम के बाद मानबेला में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 20 लाभार्थियों से संवाद कर उन्हें आवास की चाभी सौंपे। इस दौरान नागर विमानन एवं आवासन शहरी कार्य राज्यमंत्री हरदीप सिंह पूरी और मंत्री नंद कुमार नंदी भी मौजूद रहे।