लूट का विरोध करने पर युवक को चाकू घोंपा, डीसीपी ऑफिस के गेट पर हुआ बेहेश


दिल्ली ब्यूरो। सरिता विहार में अपोलो अस्पताल के साथ स्थित दक्षिण-पूर्व जिला डीसीपी कार्यालय के सामने लहुलूहान अवस्था में एक युवक पहुंचा। डीसीपी कार्यालय के मेन गेट पर पहुंचने के कुछ देर बाद युवक बेहोश हो गया। आनन-फानन में युवक को अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया है। रविवार दोपहर बाद युवक को कुछ देर के लिए होश आया था। दक्षिण-पूर्व जिला डीसीपी आरपी मीणा ने बताया कि युवक की हालत स्थित बनी हुई है। सरिता विहार थाना पुलिस ने मामला दर्जकर आरोपी बदमाशों की तलाश तेज कर दी है। 
दक्षिण्-पूर्व जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार आरोपी युवक की पहचान द्वारका निवासी शब्बीर के रूप में हुई है। सरिता विहार मेट्रो स्टेशन के पास मॉल निर्माण का काम चल रहा है। यहां से रेलवे लाइन से जाने का रास्ता बना हुआ है। युवक शब्बीर शनिवार शाम को अपने घर लौट रहा था। रेलवे लाइन के पास कुछ युवकों ने उसे घेर लिया और उसका बैग छीनने लगे। शब्बीर ने लूटपाट का विरोध किया तो आरोपी युवकों ने उसे चाकू मार दिया और उसका बैग लेकर फरार हो गए। शब्बीर को चाकू पेट में काफी गहराई तक लगा था। 
बताया जा रहा है कि शब्बीर की किसी ने सहायता नहीं की थी। वह खुद ही चलता हुआ डीसीपी कार्यालय तक पहुंच गया। डीसीपी कार्यालय के मेन गेट पर जाकर वह बेहोश हो गया। युवक का खून काफी बह गया था। घटनास्थल से डीसीपी कार्यालय करीब 400 मीटर की दूरी पर स्थित है। डीसीपी कार्यालय व सरिता विहार थाना एक ही बिल्डिंग में हैं। गेट पर तैनात संतरी ने इसकी सूचना सरिता विहार थाना पुलिस को दी। युवक को अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 
सरिता विहार थाना पुलिस ने मामला दर्जकर बदमाशों की तलाश तेज कर दी है, मगर रविवार शाम तक आरोपी बदमाशों को सुराग हाथ नहीं लगा था। पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है। युवक को होश आने के बाद पुलिस ने उसके परिजनों को रविवार को सूचना दे दी है।