बीआरओ का एक और बड़ा अचीवमेंट, समय से दो महीने पहले आवाजाही के लिए बहाल किया मनाली-लेह राजमार्ग


शिमला। 428 किलोमीटर लंबे मनाली-लेह मार्ग को वाहनों की आवाजाही के लिए बीआरओ यानी बार्डर रोड्स आर्गेनाइजेशन के दल ने बहाल कर दिया है। खास बात यह है कि इस बार मनाली-लेह मार्ग दो माह पहले ही बहाल कर दिया गया है।
पिछले साल मनाली -लेह मार्ग मई माह में बहाल किया गया था। इसका कारण इस बार कर्म बर्फबारी होना माना जा रहा है। पहले दिन तेल के टैंकरों को हाई-वे पर लेह के लिए रवाना किया गया। बीआरओ के कंमाडर कर्नल उमाशंकर ने बताया कि मनाली-लेह हाईवे ‌रिकार्ड समय में दो माह पहले ही बहाल कर दिया गया है।
मनाली-लेह मार्ग भारतीय सेना के लिए अति महत्पूर्ण माना जाता है। बार्डर तक जाने के लिए भारतीय सेना की कानवाई इसी मार्ग से होकर गुजरती है। इसलिए, मार्ग के जल्दी बहाल होने के चलते अब लेह में भारतीय बार्डर तक सेना की कानवाई जल्द आवाजाही शुरू हो जाएगी।
बर्फबारी से लकदक और खूबसूरत वादियों से भरा मनाली-लेह मार्ग दुनिया भर के पर्यटकों के लिए पसंदीदा स्थल माना जाता है। दुनिया भर के पर्यटक हर वर्ष मनाली-लेह मार्ग के जरिए खूबसूरत वादियों को निहारते हैं। बालीवुड और हालीवुड की कई हिट फिल्मों की शूटिंग यहां होती रही है।