एसएसपी गाजियाबाद द्वारा किया गया थाना मधुबन बापूधाम का वार्षिक निरीक्षण


प्रेम प्रकाश त्रिपाठी,(गाजियाबाद)। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी द्वारा जनपद में पुलिस व्यवस्था को और अधिक सुदृढ बनाने के उद्देश्य से थानों के वार्षिक निरीक्षण/भ्रमण के क्रम में आज थाना मधुबन बापूधाम का वार्षिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान शस्त्र का कुशल संचालन करने वाले उप-निरीक्षक प्रवीन मलिक व है0का0 1606 इंद्र पाल सिंह को अपनी बीट के हिस्ट्रीशीटर की सम्पूर्ण जानकारी होने पर उत्साह वर्धन हेतु पुरस्कृत किया गया।निरीक्षण के दौरान राजकीय संपत्ति, मालखाना, अभिलेखों की गुणवत्ता , परिसर, कर्मचारियों की बैरक की साफ सफाई आदि की चैकिंग की गई। विदित हो जनपद में किसी भी थाने के वार्षिक निरीक्षण हेतु क्षेत्राधिकारी लाइन्स के नेतृत्व में एक संयुक्त वार्षिक निरीक्षण टीम का गठन किया गया है जिसमें कुल 06 टीमें बनाई गई हैं। 

 

 उक्त टीम के द्वारा थाना प्रभारी द्वारा प्रस्तुत किए जाने वाले स्टेटमेंट आदि के सत्यापन/चैकिंग के आधार पर कार्यवाही की गई। उक्त संयुक्त टीम में सम्मिलित अधिकारी/ कर्मचारियों का सत्यापन कार्य अलग-अलग निर्धारित किया गया है । टीम द्वारा निर्धारित किए गए दायित्वों के आधार पर सत्यापन/चैकिंग आदि की कार्यवाही पूर्ण कर सत्यापन/चैकिंग रिपोर्ट एसएसपी महोदय के समक्ष थाने पर ही प्रस्तुत की गई। इसी क्रम में निरीक्षण टीम द्वारा थाने पर भूमि भवन , मरम्मत कार्य, राजकीय संपत्ति, शस्त्र- कारतूस, की स्थिति, अभिलेखों का अवलोकन व रखरखाव,  सीसीटीएनएस , नक्शे , चार्ट , तख्तियां, डाकबही,  गैंगचार्ट ,बीट बुक,  हिस्ट्रीशीटर की निगरानी,  कंप्यूटरीकृत अभिलेखों के संबंध में डाटा की अद्यावधिक स्थिति , थाने पर मौजूद  असलाह / शस्त्र आदि का निरीक्षण किया गया ।  निरीक्षण के दौरान थानाभवन /प्रांगण / बैरक की साफ सफाई को विशेष महत्व दिया गया।  
 एसएसपी द्वारा थाना प्रभारी को थाना परिसर की भूमि संबंधी अभिलेखों के रखरखाव /राजकीय संपत्ति रजिस्टर, ई- एफआईआर की संख्या बढ़ाने,  चोरी  गए वाहनों की ज्यादा से ज्यादा बरामदगी करने, थाने पर  माल- मशरूका  के निस्तारण, हिस्ट्रीशीटरों की निगरानी करने , SC-ST से संबंधित मुकदमों में मुआवजा की  कार्यवाही करने , व नयी बीट स्थापित कर अधिक बीट सूचनाँए अंकित करने हेतु निर्देशित किया गया।   
एसएसपी द्वारा  थाना प्रभारी / स्टाफ को एफआईआर में 24 घण्टे में घटना स्थल का निरीक्षण करने तथा एनसीआर को 24 घण्टे में निस्तारित करने हेतु निर्देशित किया गया। विवेचनाओं के त्वरित निस्तारण और विवेचनाओं के निस्तारण के संबंधी कार्यवाही ऑनलाइन करने हेतु तथा जनसुनवाई- आगंतुकों/पीङितों की समस्याओं के त्वरित निस्तारण  थाने के आसपास साफ-सफाई बनाए रखने  तथा थाना क्षेत्र में यातायात व्यवस्था को सुचारू रुप से चलाये जाने हेतु निर्देशित किया गया।