मुंह में पिस्टल डालकर उड़ाया बाप का भेजा, पकड़ने पहुंची पुलिस पर भी बरसा दीं गोलियां


मेरठ। यूपी के मेरठ जिले के ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। देर रात मामूली कहासुनी के बाद नशे में धुत ज्वेलर के बेटे ने लाइसेंसी पिस्टल मुंह में डालकर अपने बाप का भेजा उड़ा दिया। आरोपी को दबोचने पहुंची पुलिस पर भी युवक ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। लगभग तीन घंटे की मशक्कत के बाद आरोपी को दबोचा गया। इसके बाद पब्लिक ने भी आरोपी के साथ मारपीट की कोशिश की। एसपी सिटी ने बताया कि तहरीर मिलने के बाद आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा। उधर, घटना के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मचा है। जानकारी के मुताबिक ब्रह्मपुरी क्षेत्र में शास्त्री की कोठी के पास रहने वाले विनोद कुमार की शहर सर्राफा बाजार में विनोद कुमार एंड संस के नाम से ज्वेलरी शॉप है। इस शॉप पर विनोद और उनका बेटा किशन बैठते थे। जबकि विनोद के अन्य दो बेटे गोविंद और राजीव भी ज्वेलर का ही काम करते हैं। बताया जाता है शनिवार देर रात विनोद का बेटा किशन शराब के नशे में धुत था। इसी दौरान विनोद का किसी बात को लेकर किशन से विवाद हो गया।
विवाद के दौरान नशे में धुत किशन ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल अपने पिता विनोद के मुंह में डाल दी और ट्रिगर दबा दिया। जिसके चलते विनोद का भेजा उड़ गया और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। उधर धमाके की आवाज सुनकर किशन की मां माया भागकर कमरे में पहुंची तो वहां का नजारा देख बेहोश होकर गिर गई। चीख-पुकार सुनकर आसपास के पड़ोसी घटनास्थल पर पहुंचे। जिसके बाद युवक ने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया। जानकारी के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कमरे में पड़े विनोद को अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।
पुलिस की फायरिंग से मची अफरा-तफरी
घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेने की कोशिश की तो उसने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। जिसके बाद पुलिसकर्मियों में अफरा-तफरी मच गई। जानकारी के बाद बुलेट प्रूफ जैकेट से लेस कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची। अधिकारी किशन को सरेंडर के लिए कहते रहे मगर वह रुक रुक कर पुलिस टीम पर फायरिंग करता रहा। आखिरकार देर रात कमरे का दरवाजा तोड़कर पुलिस ने किशन को अरेस्ट कर लिया। जैसे ही पुलिस आरोपी को घर से बाहर लेकर चली तो गुस्साए क्षेत्रवासियों ने युवक पर हमला बोल दिया। जिसके चलते पुलिसकर्मियों के होश उड़ गए। किसी तरह आरोपी को भीड़ से बचाकर थाने भेजा गया। एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया अभी इस मामले में कोई तहरीर नहीं मिली है। तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।