होली पर छाया मोदी और कोरोना पिचकारी का रंग, चायनीज पर भारी पड़ रहे देसी ब्रांड


  • बाज़ारों में आत्मनिर्भर भारत की झलक भी देखने को मिल रही है
  • देसी ब्रांड की पिचकारीयो ने चाइनीज सामनों को पछाड़कर बनाई पहचान
  • कोविड-19 पिचकारी लोगों को खूब रास आ रही है
प्रयागराज। देश में होली पर्व इस बार देशभर में 29,30 मार्च को मनाई जाएगी। ऐसे में संगम नगरी के बाजारो होली के सामानों से पट गए हैं।होली के लिए बाजारों में कुछ अनोखे पिचकारी का क्रेज है। कोरोना फ्री पिचकारी और मोदी पिचकारी लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रही है। खास बात ये है कि इस देसी ब्रांड की पिचकारीयो ने चाइनीज सामानों को पछाड़कर भारतीय बाजारों में अपनी जगह बना ली है।
होली के बाज़ारों में आत्मनिर्भर भारत की झलक भी देखने को मिल रही है। होली में लोगों पर कोविड-19 की पिचकारी एक दूसरे पर रंग और पानी फेंकते नजर आएंगे। मोदी पिचकारी भी मार्केट में हैं जो लोगों को रंगों से सराबोर कर देगी। बाजारों में बिक रही कोविड-19 पिचकारी लोगों को खूब रास आ रही है।
मेड इन इंडिया सामानों की बढ़ी डिमांड
कोविड-19 संक्रमण चीन की वजह से पहला तो लिहाजा इस बार होली पर लोगों ने चाइनीस सामानों का बहिष्कार कर दिया। दुकानदार ने मेड इन इंडिया सामान को अपनी दुकान में तर्जी दी है। कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए तैयार हुई पिचकारी, हर्बल रंग के बारे में दुकानदार बताते हैं कि कोविड-19 संक्रमण को ध्यान में रखते हुए इस बार कंपनियों ने खास तरीके के रंग बनाए हैं। जिससे ना तो चेहरे पर कोई नकारात्मक असर होगा और ना ही कोविड-19 से होने का खतरा बढ़ेगा।
कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए कई नई तरह की और सुरक्षित पिचकारी और रंग बाज़ारों में आए हैं। बाज़ारों में लगातार बढ़ रही रौनक यह दिखा रही है कि इस बार होली का त्यौहार लोग धूमधाम से मनाएंगे। वहीं बाजारों में बिक रही पिचकारी के नाम कोविड-19 मोदी पिचकारी और कई नेता और फिल्मी कलाकारों की पिचकारी दिख रही है।
बाजारों में हर्बल रंग
कोविड-19 काल मे पड़ रही होली पर इस बार अपने देश में बनाई जा रहे रंग खास तरीके से तैयार किए गए। फूलों की पत्तियों को सुखाकर का हर्बल रंग तैयार किया गया है जो बाज़ारों बिक रहे है। जिसे लोग पसंद कर रहे हैं।संगम नगरी में कोरोना से मुक्त पिचकारियों से होली खेली जाएगा, कोरोना पिचकारी, राफेल गन पिचकारी, मोदी पिचकारी इसके अलावा और बहुत सारे पिचकारियो से होली खेली जाएगी। इस बार एक खास किस्म का गुलाल आया है। पब्जी को जलाते ही उसके धुए से होली खेलने के दौरान कोरोना कुछ क्षण के लिए गायब हो जाएगा।