पंचायत चुनाव में शराब का इस्तेमाल हुआ तो थानाप्रभारी पर होगी कार्रवाई : एडीजी राजीव सबरवाल


मोदीनगर,(गाजियाबाद)। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारी को लेकर पुलिस प्रशासन ने कमर कस ली है। मंगलवार को मोदीनगर थानापरिसर में एडीजी जोन मेरठ व आईजी मेरठ ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एसपी देहात व थानाप्रभारियों के साथ बैठक कर जरूरी दिशा निर्देश दिए। एडीजी जोन ने कहा कि इस बार पंचायत चुनाव में अवैध शराब का इस्तेमाल नहीं होने दिया जाएगा। बदमाशों व शरारती तत्वों को पकड़कर चुनाव से पहले जेल में डाल दिया जाएगा। थाना मोदीनगर परिसर में पंचायत चुनाव को लेकर मंगलवार को पुलिस अधिकारियों की एक उच्च अधिकारियों की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में एडीजी जोन राजीव सबरवाल, आईजी मेरठ प्रवीण कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी, एसपी देहात डॉ. ईरज राजा के अलावा सीओ मोदीनगर सुनील कुमार सिंह, सीओ सदर, साहिबाबाद सीओ प्रथम, दितीया के अलावा मोदीनगर उपजिलाधिकारी आदित्य प्रजापति ने भाग लिया। बैठक में एडीजी जोन ने कहा कि यदि किसी गांव में अवैध शराब पकड़ी गई तो इसकी जिम्मेदारी थानाप्रभारी की होगी। उन्होंने थाना प्रभारियों को आदेश दिया कि पंचायत चुनाव से पहले गैंगस्टर, गुंडा एक्ट सहित अन्य धाराओं में जेल जा चुके बदमाशों पर निगरानी रखें और गलत हरकत देखकर उन्हें सलाखों के पीछे धकेलें।
उन्होंने कहा कि गांव में दंबग व शरारती तत्वों के खिलाफ शांतिभंग व 7 व 16 की धाराओं में कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि पुलिस को पंचायत चुनाव से पहले ऐसा माहौल तैयार करना कि मतदाता बेखौफ होकर मतदान करें और किसी के दबाव में न आंए। उन्होंने कहा कि अक्सर सूचना मिलती है कि पंचायत चुनाव में शराब का चलन होता है, लेकिन इस बार नहीं होगा। यदि किसी गांव में शराब चलती मिली तो इसकी जिम्मेदारी संबंधित थानाप्रभारी की होगी। बैठक के बाद मीडिया से बात करते समय एडजी जोन व आईजी मेरठ ने कहा कि पंचायत चुनाव में अति सवेदनशील ,सवेदनशीन बुथों पर विशेष नजर रखी जाएगी।