कानपुर में दबिश देने गई पुलिस टीम पर एक दर्जन बदमाशों ने किया हमला, चौकी इंचार्ज और हेड कॉन्स्टेबल घायल


  • कानपुर देहात में महिला उत्पीड़न की शिकायत पर दबिश देने पहुंचे पुलिस टीम पर हमला हुआ
  • एक दर्जन से ज्यादा बदमाशों ने चौकी इंचार्ज की पिस्टल और सिपाही की बंदूक छीन किया हमला
  • हमले में सब इंस्पेक्टर और हेड कॉन्स्टेबल घायल हो गए, इलाज के लिए रिजेंसी अस्पताल में भर्ती
कानपुर ब्यूरो। कानपुर देहात में महिला उत्पीड़न की शिकायत पर दबिश देने पहुंचे पुलिस टीम पर एक दर्जन से ज्यादा बदमाशों ने हमला किया है। बदमाशों ने चौकी इंचार्ज की पिस्टल और सिपाही की बंदूक भी छीन ली थी। हमले में सब इंस्पेक्टर और हेड कॉन्स्टेबल घायल हो गए हैं जिन्हें इलाज के लिए रिजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना कानपुर देहात के थाना रसूलाबाद क्षेत्र की है। सूचना पाकर डीआईजी प्रीतिंदर सिंह और एडीजी भानु भास्कर घटनास्थल पर पहुंचे। डीआईजी ने खबर की पुष्टि करते हुए बताया, 'कानपुर देहात में एक चौकी में कुछ पुलिस के साथ मारपीट हुई है। एक महिला की शिकायत पर पुलिस टीम दबिश देने गई थी। टीम पर अभियुक्तों के पथराव की सूचना मिली है। उसमें एक सब इंस्पेक्टर और हेड कॉन्स्टेबल को चोट लगी हैं जिन्हें पहले सीएचसी में फर्स्ट ऐड दिलाने के बाद रिजेंसी भेजा गया है। दोनों की हालत स्थिर है। होश में हैं और बात कर रहे हैं।'
महिला उत्पीड़न की शिकायत पर पहुंची थी पुलिस
डीआईजी ने आगे बताया कि मामले को लेकर एसपी देहात से बात हुई है। आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी। एडीजी भानु भास्कर ने बताया, 'हमें शिकायत मिली थी कि एक महिला को उसके ससुरालवाले परेशान कर रहे थे। हमारी चौकी की फोर्स उनकी मदद के लिए पहुंची तो परिवार के लोग हिंसक हो गए। चौकी के लोगों ने महिला को बचाने की कोशिश की।'
पुलिस पर घात लगाकर किया हमला
एडीजी जोन कानपुर ने बताया, 'वे लोग दुर्दांत किस्म के थे और हमारी चौकी के लोगों पर पीछे से घात लगाकर हमला किया। दुर्दांत किस्म के लोग थे। दो पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। उनका इलाज चल रहा है। पीड़ित महिला का भी उपचार किया जा रहा है। जिन्होंने हिंसक घटना की थी उन्हें चिन्हित कर लिया है। टीम बनाकर उनकी तलाशी की जा रही है।'