जहरीली शराब मामले पर पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज, छह पुलिसकर्मी सस्पेंड


प्रयागराज। प्रयागराज हंडिया इलाके के सैदाबाद में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या रुकने का नाम नहीं ले रही है। 12 लोगों की पहले ही मौत हो चुकी थी। वही बृहस्पतिवार को खेत में मिली शराब पीने से 2 लोगों की और मौत हो गई। बीते 5 दिनों के अंदर अब तक 14 लोगों की मौत हो चुकी है। फिलहाल पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस मामले में प्रशासन का कहना है पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही क्लियर हो पाएगा दो मौतों के पीछे वजह क्या रही। आपको बता दें इस शराब की वजह से अभी भी कई की हालत खराब है। जिन का इलाज हॉस्पिटल में चल रहा है।
प्रयागराज सैदाबाद की घटना ने पूरे प्रयागराज महकमे को हिला कर रख दिया है। तो वहीं प्रशासन इस मामले में कई लोगों की मौत में शराब की वजह नहीं बल्कि अलग-अलग बीमारियों की वजह से मौत का कारण बता रहे है। इस मामले को प्रदेश सरकार ने भी गंभीरता से लिया है। 12 लोगों की हुई मौत के बाद रामरति 50 और कल्लू 55 की खेत से मिली शराब पीने से मौत हो गई।
परिवार वालों के मुताबिक हकीम पट्टी गांव में के खेत में यह दोनों रखवाली कर रहे थे और खेत में ही इनको शराब पड़ी मिली थी। जिसे पीने के बाद इनकी हालत बिगड़ गई और सुबह होते होते उनकी मौत हो गई। पुलिस ने बॉडी को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौत के पीछे कारण क्या है पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा। एसएसपी ने की कार्रवाई प्रयागराज में हुई इस घटना के बाद पुलिस महकमा पूरी तरीके से अलर्ट है और अवैध और कच्ची शराब बनाने वाली जगह पर ताबड़तोड़ कार्रवाई की जा रही है। वहीं इस तरह की घटना दोबारा ना हो एसएसपी और जिलाधिकारी खुद गांव जाकर जायजा लेकर ग्रामीणों को जागरूक कर रहे है। वहीं इस घटना में प्रयागराज के एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने घटना में ढिलाई बरतने वाले छह पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है।