Posts

Showing posts from April, 2021

वर्चुअल बैठक के जरिए सीएम योगी ने जानी गाजियाबाद जनपद की स्थिति, बैठक में निगरानी समिति की अध्यक्ष नीलम भारद्वाज रहीं उपस्थित

Image
सूर्य प्रकाश,(गाजियाबाद)। कोविड-19 संक्रमण से क्षेत्रवासियों के बचाव के लिए अलग-अलग संस्थाओं द्वारा जागरूक किया जा रहा है। इसी क्रम में बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन की अध्यक्षता में प्रत्येक जिले में वर्चुअल बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में गाजियाबाद नगर निगम के नगरायुक्त महेंद्र सिंह तंवर, निगरानी समिति की अध्यक्ष नीलम भारद्वाज, पार्षद वार्ड-77, सदस्य सुनील वैद्य, रवि कुमार आरडब्ल्यूए सचिव, सेक्टर-4 वैशाली, संदीप कुमार सफाई सुपरवाइजर, पवित्रा आशा उपस्थित रहीं। वर्चुअल बैठक में मुख्यमंत्री द्वारा निगरानी समिति द्वारा शहर की जनता को जागरूक करने के लिए किए जा रहे कार्यों की सराहना की गई। कोविड-19 संक्रमण से बचाव हेतु जनता को जागरूक करना अति आवश्यक है, जिसके लिए गाजियाबाद नगर निगम तथा निगरानी समिति द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। जिसके माध्यम से 2 गज दूरी मास्क है जरूरी, सेनेटाइजर का अधिक से अधिक प्रयोग करें, बेवजह घर से बाहर ना निकलें व अन्य बातें शहर के नागरिकों को बार-बार लगातार डोर टू डोर जाकर समझाई जा रही है। शहर में लगातार होने वाले सैनिट

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में मदद का दिया प्रस्ताव

Image
बीजिंग। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर महामारी के खिलाफ लड़ने के लिए भारत के साथ सहयोग मजबूत करने और देश में कोविड-19 मामलों में वर्तमान बढ़ोतरी से निपटने के लिए समर्थन और सहायता प्रदान करने की इच्छा व्यक्त की। सरकारी मीडिया की खबर के अनुसार, चीन के राष्ट्रपति चिनफिंग ने मोदी को एक संदेश भेजकर भारत में कोरोना वायरस महामारी पर संवेदना व्यक्त की। राष्ट्रपति शी द्वारा प्रधानमंत्री मोदी को भेजे गए संदेश के अनुसार, ‘‘मैं भारत में कोविड-19 महामारी की हाल की स्थिति से बहुत चिंतित हूं। चीन की सरकार और लोगों की ओर से तथा अपनी ओर से मैं भारत सरकार और लोगों के प्रति ईमानदारी से सहानुभूति व्यक्त करना चाहूंगा।’’ शी ने कहा, ‘‘चीनी पक्ष महामारी से लड़ने में भारतीय पक्ष के साथ सहयोग को मजबूत करने और इस संबंध में सहायता एवं सहयोग प्रदान करने के लिए तैयार है। मुझे विश्वास है कि भारत सरकार के नेतृत्व में भारतीय लोग निश्चित रूप से महामारी पर विजय प्राप्त करेंगे।’’ चीनी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘मानवता साझा भविष्य वाला समुदाय है। केवल एकजुटता और सहयोग से दुन

महाराष्ट्र में लॉकडाउन की पाबंदियों को और सख्त नहीं करेगी उद्धव सरकार

Image
मुंबई ब्यूरो। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में और अधिक सख्त तालाबंदी की आवश्यकता नहीं है क्योंकि लोग प्रतिबंधों का पालन कर रहे हैं। राज्य को संबोधित करते हुए, ठाकरे ने कहा कि सरकार को प्रतिबंध और लॉकडाउन  COVID19 के प्रसार को रोकने के लिए किया गया है। ठाकरे ने अपने संबोधन के दौरान कहा, हमारा अनुमान था कि 10 लाख सकारात्मक रोगी हो सकते हैं, लेकिन अब यह 7 लाख मामले हैं। यानि की कोरोना के सख्त नियमों का लोग पालन कर रहे हैं।  उन्होंने COVID-19 का मुकाबला करने के लिए घोषित पैकेज पर हुई प्रगति की समीक्षा की और घातक महामारी की 'तीसरी लहर' से निपटने की आवश्यकता पर भी विचार किया। उन्होंने कहा, "राज्य की अर्थव्यवस्था को रोकना नहीं चाहिए। इसलिए मैंने उद्योगपतियों, श्रमिक संघों के प्रतिनिधियों के साथ बैठकें की हैं और COVID-19 की तीसरी लहर से निपटने के तरीके के बारे में जानकारी ली है।

मास्क नहीं पहनने पर काटा चालान तो पीएम-सीएम के नाम की धमकियां देने लगे राम जन्मभूमि न्यास के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

Image
दमोह। मध्य प्रदेश में दमोह जिले के पथरिया तहसील के संजय चौराहे पर पुलिस और तहसीलदार ने जब बिना मास्क लगाए एक वाहन चालक औऱ उसके बगल में बैठे व्यक्ति पर कार्यवाही की तो वह दुनिया भर की दलीलें देने लगा। खुद की गलती न मानते हुए जुर्माने की रसीद को प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और गृहमंत्री तक पहुंचाने की धमकियां देने लगा। ताज्जुब यह कि वाहन की अगली सीट पर बैठे शख्स राम मंदिर निर्माण न्यास के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आत्मानंद सरस्वती जी महाराज थे। पथरिया के संजय चौराहे पर तहसीलदार आलोक जैन और थाना प्रभारी ब्रजेश पांडे अपने दल सहित ड्यूटी पर तैनात थे। तभी एक सफेद रंग की एक्सयूवी आई जिसके आगे नाम पट्टी पर आत्मानन्द सरस्वती लिखा था। पुलिसकर्मियों ने उनकी गाड़ी को रोका क्योकि ड्राइवर औऱ उसके बगल में बैठे स्वामी जी ने मास्क नहीं लगाया हुआ था। तहसीलदार और पुलिस की टीम ने पहले उनसे सम्मानपूर्वक मास्क लगाने को कहा, लेकिन वे नहीं माने। पुलिस की टीम ने फिर चालान की प्रक्रिया शुरू की। इसके बाद तो स्वामी जी ने वहीं बैठे-बैठे प्रवचन से लेकर धमकियां तक दे डालीं। उन्होंने कहा कि वे अभी 70 मजदूरों को खाना खिला कर आ

जल्लाद बाप: बेटी को मानता था अपशकुन इसलिए कई दिनों तक नहीं दिया खाना, मौत के बाद दफनाई लाश

Image
जलगांव में जल्लाद पिता ने बेटी को कई दिनों तक नहीं दिया खाना मासूम की भूख से तड़प तड़प कर हुई मौत जलगांव का जल्लाद पिता बेटी को मानता था अपशकुन आरोपी बाप ने बेटी की लाश को चुपचाप दफना दिया था जलगांव,(महाराष्ट्र)। बेटियां सबसे ज्यादा अपने पिता की लाडली होती हैं, उनकी हर फरमाइश को पूरा करने के लिए बाप जान की बाजी लगा देता है। लेकिन महाराष्ट्र के जलगांव में माजरा बिल्कुल उल्टा है। यहां एक जल्लाद पिता ने अपनी 11 साल की बेटी को एक कमरे में बंद कर दिया और कई दिनों तक खाना नहीं दिया। आखिरकार भूख से तड़प तड़प कर मासूम की जान चली गई। यह कलयुगी बाप बेटी को अपशकुन मानता था। यह घटना जलगांव जिले की रजा कॉलोनी में हुई है। जहां एक सनकी बाप की सड़ी हुई सोच ने एक मासूम को दुनिया देखने के पहले ही मौत के घाट उतार दिया। बेटी की मौत के बाद पिता ने मासूम की लाश को चुपचाप दफना दिया और बीवी और बाकी दो बेटियां के साथ घर छोड़ कर चला गया। चाचा ने की पुलिस में शिकायत जब लड़की चाचा को इस बात का संदेह हुआ तो उन्होंने स्थानीय पुलिस स्टेशन को इस बात की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ने घटना के बाद से फरार चल रहे जावेद और उसकी प

कोविड मरीजों को बड़ी राहत, डीडीयू जिला अस्पताल में लगा ऑक्सिजन प्लांट

Image
वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में अस्पतालों में ऑक्सिजन की किल्लत के बीच दीनदयाल उपाध्याय राजकीय अस्पताल को ऑक्सिजन की संजीवनी मिल गई। शहर के उद्योगपति के सहयोग से अस्पताल में ऑक्सिजन प्लांट इंस्टॉलेशन किया गया है। शुक्रवार से इस प्लांट से ऑक्सिजन का उत्पादन भी शुरू हो जाएगा। औरंगाबाद से आए इस प्लांट में भारत के अलावा यूएस और जर्मनी के पार्ट्स लगाए गए हैं। ये ऑक्सिजन प्लांट वातावरण से ऑक्सिजन लेकर प्रोसेस कर उसे मरीजों को देने लायक बनाता है। प्लांट को इंस्टाल कर रहे इंजीनियर प्रदीप ने बताया कि ऑक्सिजन प्लांट के इंस्टाल का काम पूरा हो चुका है। 120 बेड पर होगी ऑक्सिजन की सप्लाई कोरोना काल के दौरान वाराणसी के दीनदयाल उपाध्याय राजकीय अस्पताल में पूर्वांचल के अलग-अलग जिलों से लगातार मरीज आ रहे हैं। ऐसे में मरीजों को लगातार ऑक्सिजन की किल्लत का सामना करना पड़ रहा था। 203 बेड वाले इस अस्पताल में 650 एलपीएम का ऑक्सिजन प्लांट लग चुका है। इस प्लांट से 120 बेड पर ऑक्सिजन की सप्लाई होगी, जिससे मरीजों को ऑक्सिजन की किल्लत से दो चार नहीं होना पड़ेगा। 8 दिनों में इंस्टाल हुआ प्लांट राजकीय अस्पताल मे

कानपुर में रिफलिंग के दौरान फटा ऑक्सिजन सिलिंडर, एक की मौत, दो गंभीर

Image
कानपुर के दादा नगर इंडस्ट्रियल एरिया में हुआ हादसा रिफलिंग के दौरान फटा ऑक्सिजन सिलिंडर एक मजदूर की मौत, दो गंभीर रूप से हुए घायल अनूप मिश्रा,(कानपुर ब्यूरो)। उत्तर प्रदेश का कानपुर में शुक्रवार तड़के एक दर्दनाक हादसा हुआ। यहां पर रिफलिंग के दौरान ऑक्सिजन सिलिंडर फटने से एक श्रमिक की मौत हो गई। वहीं दो अन्य श्रमिक घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच कर रही है। कानपुर में ऑक्सिजन की किल्लत के चलते ऑक्सिज प्लांट्स पर लगातार काम चल रहा है। श्रमिक 24 घंटे काम कर रहे हैं। पनकी इलाके में ऑक्सिजन प्लांट में भी रिफलिंग का काम चल रहा था। दादा नगर इंडस्ट्रियल एरिया में हुई घटना तड़के रिफिलिंग के दौरान अचानक तेज आवाज के साथ ऑक्सिजन सिलिंडर फट गया। फटने से एक श्रमिक की मौत हो गई और कम से कम 2 घायल हो गए। घटना के बाद दादा नगर औद्योगिक क्षेत्र में स्थित ऑक्सिजन प्लांट पर पुलिस की टीम पहुंची। कुर्सियों के उड़े परखच्चे प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि सिलिंडर फटने के बाद इतनी तेज आवाज हुई कि दूर-दूर तक लोगों ने आवाज सुनी। ऑक्सिजन प्लांट मे

बेटे से पुलिसवालों ने वीआई'पी' के लिए छीना ऑक्सिजन सिलिंडर, गिड़गिड़ाता रहा बेटा, मां ने तोड़ा दम

Image
आगरा में एक लड़के से पुलिसवालों ने छीना ऑक्सिजन सिलिंडर घुटने के बल बैठकर लड़का गिड़गिड़ाता आ रहा नजर वीडियो वायरल होने के बाद अधिकारियों ने दिए जांच के आदेश आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा में एक हैरान करने वाला और मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां पर अपनी मां के लिए किसी तरह ऑक्सिजन सिलिंडर का इंतजाम करके ले जा रहे एक 17 साल के लड़के से कुछ पुलिसवालों ने सिलिंडर छीन लिया। बेटा पुलिसवालों के सामने जमीन पर गिरकर हाथ जोड़कर रोते हुए ऑक्सिजन सिलिंडर वापस मांगता है लेकिन पुलिसवाले उसकी नहीं सुनते। मामले के वायरल विडियो में मां को बचाने के लिए बेटा कहता है, 'मेरी मां मर जाएगी। सिलिंडर लेकर मत जाइए। मैं कहां से ऑक्सिजन का इंतजाम करूंगा।' इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद यूपी पुलिस की कार्य प्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं। अडिश्नल डायरेक्टर जनरल राजीव कृष्णा ने वायरल वीडियो की जांच के आदेश दिए हैं। लड़का गिड़गिड़ाता रहा बताया जा रहा है कि आगरा के एक अस्पताल से कुछ पुलिसवाले ऑक्सिजन सिलिंडर लेने आए थे। यहां उन्होंने एक लड़के को ऑक्सिजन सिलिंडर ले जाते देखा तो उससे वह छीन ल

ऑक्सीजन प्लांट के बाहर तड़पता रहा बच्चा, पुलिस समझाती रही कानून

Image
नोएडा ब्यूरो। ग्रेटर नोएडा में ऑक्सीजन की किल्लत होने पर एक मां बीमार बच्चे को ऑक्सीजन प्लांट के बाहर ई-रिक्शे में लेकर पहुंच गई। बच्चा काफी देर तक तड़पता रहा, लेकिन ऑक्सीजन नहीं मिली। जब बच्चे और महिला का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो आनन-फानन पुलिस ने अधिकारियों से बात कर महिला के ऑक्सीजन सिलिंडर में गैस डलवा दी। गुरुवार को बिसाहड़ा गांव निवासी महिला बच्चे के साथ ई-रिक्शे में जारचा बिसाहड़ा एनटीपीसी रोड पर स्थित ऑक्सीजन प्लांट पर पहुंच गई। महिला पुलिस और कंपनी के लोगों से ऑक्सीजन दिलाने की गुहार लगाने लगी। उसने कहा कि अगर बेटे को कुछ हुआ तो प्लांट के बाहर ही धरने पर बैठ जाएगी।

पंचशील बिल्डेटेक प्राइवेट लिमिटेड के निदेशकों पर धोखाधड़ी का केस दर्ज

Image
गाजियाबाद ब्यूरो। पंचशील बिल्डेटेक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के निदेशकों द्वारा ऑफिस स्पेस व गोदाम को दुकान बताकर बेचकर करोड़ों रुपए का फर्जीवाड़ा करने का मामला सामने आया है। इस संबंध में पीड़ितों ने कोर्ट के आदेश पर कंपनी के चार निदेशकों के खिलाफ धोखाधड़ी व अन्य धाराओं में केस दर्ज कराया है। पीड़ितों का कहना है कि निदेशकों ने फर्जीवाड़ा करते हुए उनसे दुकान के बदले में सवा तीन करोड़ रुपये ठग लिए गए। फर्जीवाड़े का पता चलने पर उन्होंने विरोध किया तो हत्या की धमकी दिलाई गई। क्रॉसिंग रिपब्लिक की पंचशील वेलिंगटन सोसायटी रहने वाले मोनू मिश्रा का कहना है कि वह और उनका परिवार कामर्शियल संपत्ति तलाश रहे थे। इसी दौरान उनकी मुलाकात पंचशील बिल्डेटेक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के निदेशक अनुज चौधरी से हुई। उन्होंने बताया कि क्रॉसिंग रिपब्लिक टाउनशिप डूंडाहेड़ा में उनकी कंपनी द्वारा कामर्शियल बिल्डिंग का प्रोजेक्ट बनाया जा रहा है, जिसमें वह कामर्शियल दुकानों बेचेंगे। इसके बाद अनुज चौधरी ने कंपनी के अन्य निदेशकों अशोक चौधरी, राहुल कुमार सिंघवाल और शंकर रामाचंद्रन भारद्वाज से मिलवाया। मोनू मिश्रा का कहना है

गाजियाबाद पुलिस ने ऑक्सिजन की कालाबाजारी करने वाले एक शातिर को किया गिरफ्तार, 638 छोटे-बड़े खाली सिलेंडर बरामद

Image
गाजियाबाद की थाना लिंक रोड पुलिस के हाथ लगी बड़ी कामयाबी पुलिस ने कालाबाजारी करने वाले एक शातिर को गिरफ्तार किया, मुख्य आरोपी फरार पुलिस ने आरोपी के कब्जे से 638 छोटे-बड़े सिलेंडर खाली, ऑक्सिजन सिलेंडर बरामद किये गाजियाबाद ब्यूरो। यूपी के गाजियाबाद की थाना लिंक रोड पुलिस को एक बड़ी कामयाबी उस वक्त हाथ लगी, जब मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने कालाबाजारी करने वाले एक शातिर को गिरफ्तार किया। पुलिस ने उसके कब्जे से कालाबाजारी के लिए जमा किए गए 638 छोटे-बड़े सिलेंडर खाली, ऑक्सिजन सिलेंडर बरामद किये हैं। इस पूरे मामले में लिप्त मुख्य आरोपी अभी पुलिस की गिरफ्तत से बाहर है। इस पूरे मामले का खुलासा करते हुए एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि कोविड-19 संक्रमण फैलने के बाद अचानक से ऑक्सिजन की मांग बढ़ गई। इस दौरान कुछ लोगों ने ऑक्सिजन की कालाबाजारी शुरू कर दी है। इस पर अंकुश लगाए जाने के मकसद से एसएसपी अमित पाठक के निर्देश पर एक विशेष अभियान चलाया जा रहा है। 638 छोटे-बड़े खाली ऑक्सिजन सिलेंडर भी बरामद इसी कड़ी में पुलिस को सूचना मिली कि थाना लिंक रोड क्षेत्र अंतर्गत साइट 4, बी-30 औद्योगिक क्षेत

तीन घंटे तक एक-एक सांस के लिए तड़पती रही महिला, अस्पताल के बाहर तोड़ा दम

Image
ग्रेटर नोएडा। बीते साल कोरोना काल में अपने काम के दम पर खुद को प्रदेश में अव्वल साबित करने वाले राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) संस्थान के डॉक्टरों की संवदेना मर चुकी है। जिम्स में गुरुवार को उपचार कराने पहुंची एक महिला मरीज की तबीयत लगातार बिगड़ते देखने के बाद भी यहां के डॉक्टरों ने उसे भर्ती तो दूर जांच करने की भी जहमत नहीं उठाई। जिसके कारण महिला मरीज ने अपनी कार में ही तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया।  लगातार बढ़ते संक्रमण के बीच जिम्स के डॉक्टरों की संवेदनहीनता और लचर चिकित्सा व्यवस्था के चलते बीटा-दो सेक्टर की रहने वाली महिला जागृति गुप्ता अपनी कार में करीब तीन घंटे तक तड़पती रही। परिजन उसे तुरंत उपचार देने की गुहार लगाते रहे, लेकिन उसे कोई डॉक्टर देखने नहीं आया, न ही उसे अस्पताल में भर्ती किया गया।

जीटीबी अस्पताल ने नए मरीजों की भर्ती पर लगाई रोक, इलाज के लिए भटक रहे लोग

Image
दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली में कोरोना संक्रमण का मामला लगातार बढ़ता ही जा रह है। बेकाबू मामलों से स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। मरीजों को अस्पताल में बेड नहीं मिल रहे हैं और ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की जान जा रही है। जिससे चारों तरफ कोहराम मचा हुआ है।  इस बीच गुरु तेग बहादुर (जीटीब) अस्पताल ने नए मरीजों की भर्ती पर रोक लगा दी है। अस्पताल का कहना है कि यहां एक भी बेड खाली नहीं है। ऐसी स्थिति में नए मरीजों की भर्ती कैसे करें। वहीं दूसरी तरफ बेड के लिए कोरोना मरीज दर-दर भटक रहे हैं। लेकिन कहीं भी बेड नहीं मिल रहे हैं। बेड खाली नहीं होने से अस्पताल में मरीजों की भर्तियां नहीं हो रही हैं। ऐसे में मरीज अस्पताल के बाहर ही दम तोड़ते नजर आ रहे हैं।    अस्पतालों में तेजी से बढ़ रही भर्ती रोगियों की संख्या बता दें कि राजधानी में संक्रमितों की संख्या के साथ अस्पतालों में भर्ती रोगियों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। आलम यह है कि इस समय हर पांचवां संक्रमित मरीज अस्पताल में उपचार करा रहा है। पिछले साल मार्च में कोरोना की शुरुआत के बाद ऐसा पहली बार है जब अस्पतालों में मरीज लगातार बढ़ रहे ह

दिल्ली हाई कोर्ट में रो पड़े दिल्ली बार काउंसिल के चेयरमैन रमेश गुप्‍ता, जज ने कहा- हम सब असहाय हैं

Image
दिल्ली बार काउंसिल के चेयरमैन रमेश गुप्‍ता शुक्रवार को दिल्ली हाई कोर्ट के सामने पेश हुए उन्‍होंने कोरोना की वजह से वकीलों के बुरे हालात पर कुछ मांगें रखीं ताकि उनकी मदद हो सके इस पर जज ने कहा हम सब असहाय हैं, साथ ही दिल्‍ली सरकार से पूछा कि इस मामले में क्‍या इंतजाम हो सकता है नई दिल्‍ली। दिल्ली बार काउंसिल के चेयरमैन रमेश गुप्‍ता शुक्रवार को दिल्ली हाई कोर्ट के सामने पेश हुए। उन्‍होंने कोरोना की वजह से वकीलों के बुरे हालात पर कुछ मांगें रखीं। इस पर जज ने कहा हम सब असहाय हैं, साथ ही दिल्‍ली सरकार से पूछा कि इस मामले में क्‍या इंतजाम हो सकता है। शुक्रवार को वकीलों की तरफ से अर्जी दायर कर रमेश गुप्‍ता ने कहा, 'हर रोज 20 वकीलों की मौत की खबर सुनाई दे रही है।' अदालत के सामने रमेश गुप्‍ता भावुक होकर रोते हुए बोले, 'सर हम पूरी तरह असहाय हैं। किसी को न अस्पताल दिला पा रहे हैं न ऑक्सीजन सिलिंडर। लोग तड़प तड़प कर मर रहे हैं। हम न केंद्र को जिम्मेदार ठहराने चाहते हैं और न दिल्ली सरकार को। हम बस मदद करना चाहते हैं अपने साथियों की। हमारे गेस्ट हाउस को अटैच कर दिया जाए।' जज बोले- क

रेमडेसिविर की कालाबाजारी में डॉक्टर और लैब असिस्टेंट गिरफ्तार

Image
दिल्ली ब्यूरो। बाहरी जिले की नारकोटिक सेल ने छापेमारी करके एक डॉक्टर और लैब असिस्टेंट को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान रोहिणी सेक्टर 13 के साई अपार्टमेंट के डॉ विष्णु अग्रवाल (32) और राजौरी गार्डन में शिवाजी विहार के लैब असिस्टेंट निखिल गर्ग (22) के तौर पर हुई है। आरोपियों के कब्जे से 8 रेमडेसिविर के इंजेक्शन बरामद किए हैं। आरोपी 35 हजार रुपये में खरीदकर 45 हजार रूपए में कालाबाजारी करते थे। बाहरी जिले के डीसीपी राजीव रंजन के मुताबिक, सूचना मिली थी कि कुछ लोग रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजरी कर रहे हैं। सूचना के आधार पर जिला पुलिस के नारकोटिक्स सेल और एसटीएफ की एक टीम गठित की गई। टीम ने बरवाला चौक के पास से कार से जा रहे विष्णु अग्रवाल को रोका। उनकी कार की जब तलाशी ली गई तो उसमें 3 इंजेशक्न मिले। उसके बारे में जानकारी मांगी गई तो वह पुख्ता दस्तावेज नहीं दिखा पाए। उसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उनसे की गई पूछताछ के बाद पुलिस ने लैब सहायक निखिल गर्ग को गिरफ्तार किया गया। उसके पास से पांच रेमडिसिविर इंजेक्शन जब्त किए गए। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि इन्होंने 35 हजार रूपए म

दिल्ली पुलिस ने फर्जी कोरोना रिपोर्ट तैयार करने वाले एक डॉक्टर समेत पांच को किया गिरफ्तार

Image
दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली पुलिस ने मालवीय नगर इलाके से फर्जी कोरोना रिपोर्ट तैयार करने वाले पांच को गिरफ्तार कर लिया है। पांच आरोपियों में से दो लैब टेक्नीशियन हैं, जबकि तीसरा एक टेस्टिंग लैब में डॉक्टर और एप्लीकेशन साइंटिस्ट है। वे लोग नमूने संग्रह कर लैब में बिना किसी एंट्री के जांच करते थे और लैब के फर्जी लेटरहैड पर रिपोर्ट प्रिंट करके देते थे।  जेनस्ट्रेक्स डायग्नोस्टिक सेंटर के सीओओ चेतन कोहली ने कहा कि हम न केवल निराश हैं, बल्कि कुछ रुपयों के लिए किए गए इस कार्य से दुखी हैं। चंद रुपयों के लिए लोगों के जीवन को खतरे में डाल रहे हैं। हम जांच अधिकारियों के साथ हैं और आरोपियों के खिलाफ की गई किसी भी कार्रवाई का समर्थन करते हैं।  जेनेस्ट्रिंग्स डायगनॉस्टिक सेंटर ने कहा कि जब कुछ मरीजों ने जांच रिपोर्ट की सत्यता जानने के लिए हमसे संपर्क किया तो हमें पता चला कि न ही ये रिपोर्ट हमने जारी की थी और न ही टेस्ट किया था। उन्होंने ये भी कहा कि, इस पूरे मामलें में हमारे पांच कर्मचारी जुड़े थे, जिसकी हमें जानकारी भी नहीं थी।

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल कोरोना संक्रमित, खुद को किया आइसोलेट

Image
दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल कोरोना संक्रमित हो गए हैं। यह जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट कर दी है। उन्होंने बताया है कि उन्हें हल्के लक्षण हैं, जिसके चलते उन्होंने खुद को घर में ही आईसोलेट कर लिया है। उपराज्यपाल ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर बताया, 'मेरी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है और मुझे मामूली लक्षण हैं। मैंने खुद को आईसोलेट कर लिया है और जो लोग भी पिछले दिनों मेरे संपर्क आए थे उन सब का टेस्ट हो चुका है। मैं दिल्ली के कार्य और हालात अपने निवास से ही मॉनिटर करता रहूंगा।

मशहूर टीवी पत्रकार रोहित सरदाना का निधन, पीएम मोदी, अमित शाह सहित राजनीतिक जगत ने जताया शोक

Image
नोएडा। मशहूर टीवी पत्रकार रोहित सरदाना की शुक्रवार को दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। कुछ दिन पहले वह कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे और नोएडा के सेक्टर-11 स्थित अस्पताल में भर्ती थे। वह 41 वर्ष के थे। सहकर्मियों के मुताबिक सरदाना का अंतिम संस्कार उनके गृह नगर हरियाणा के कुरुक्षेत्र में किया जाएगा। उनकी मौत पर मीडिया जगत, राजनीतिक क्षेत्र तथा समाज के प्रबुद्ध लोगों ने शोक व्यक्त किया है। रोहित सरदाना इन दिनों ‘आज तक’ समाचार चैनल पर प्रसारित होने वाले शो दंगल की एंकरिंग कर रहे थे। वर्ष 2018 में रोहित सरदाना को गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उनके निधन की खबर आजतक चैनल ने ट्वीट करके दी है। चैनल ने ट्वीट किया, ‘‘ हमारे सहकर्मी और दोस्त, रोहित सरदाना के निधन से हम सभी स्तब्ध हैं। इस अपूर्णनीय क्षति को शब्दों में व्यक्त नहीं किया जा सकता है। इस दुख की घड़ी में हम उनके परिवार को अपनी सांत्वना व्यक्त करते हैं।’’ उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘ रोहित सरदाना हमें बहुत जल्दी छोड़कर चले गए। ऊर्जा से परिपूर्ण, भारत की प्रगति क

भारत से आने वाले यात्रियों को 10 दिन क्‍वारंटीन रखेगा इटली

Image
रोम। इटली के अधिकारियों ने बताया कि भारत से बुधवार शाम को रोम पहुंचे 210 हवाई यात्रियों को अनिवार्य रूप से पृथकवास में रखा जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्री रॉबर्टो स्पेरेंजा ने एक नये अध्यादेश पर हस्ताक्षर किए हैं जिसमें भारत से आ रहे यात्रियों को इटली के स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा चिह्नित स्थान पर 10 दिनों के लिए पृथक रहना होगा। भारत में कोरोना वायरस के मामले बेतहाशा बढ़ने के कारण यह कदम उठाया गया है। रोम पहुंचने पर यात्रियों की जांच की जाएगी और अगर कोई संक्रमित पाया जाता है तो उसे रोम के मुख्य लियोनार्दो द विंची अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के समीप स्थित कोविड होटल में रखा जाएगा। विमान से पहुंचे 210 यात्रियों में बच्चे भी शामिल हैं।

एक्जिट पोल: पश्चिम बंगाल में कड़ा मुकाबला, असम में सत्ताधारी भाजपा को बढ़त

Image
नयी दिल्ली। विभन्न चैनलों व एजेंसियों द्वारा बृहस्पतिवार को जारी किए गए एक्जिट पोल के नतीजों में पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर का पूर्वानुमान जताया गया है जबकि केरल में सत्तारूढ़ वाम मोर्चे और असम में भाजपा के फिर से सत्ता में लौटने का अनुमान व्यक्त किया गया है। एक्जिट पोल के अनुमानों के मुताबिक, तमिलनाडु में ऑल इंडिया अन्नाद्रमुक मुनेत्र कषगम (अन्नाद्रमुक) सत्ता से बाहर जा सकती है और एक दशक के बाद द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) सत्ता में वापसी कर सकती है। कुछ चुनावी सर्वेक्षणों के मुताबिक पुडुचेरी में कांग्रेस के हाथ से सत्ता से जा सकती है।  पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के तहत आठवें और आखिरी चरण का मतदान संपन्न होने के साथ ही चैनलों और एजेंसियों के एक्जिट पोल सामने आने लगे। राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर दिखाई दे रही है। रिपब्लिक-सीएनएक्स के सर्वेक्षण में भाजपा को तृणमूल कांग्रेस पर थोड़ी बढ़त दिखायी गई है। उसके मुताबिक राज्य की 294 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा को 138 से 148 सीटें म

चीन की सीमा के पास रोड परियोजना का जिम्मा संभालेगी बीआरओ की ये पहली महिला अधिकारी

Image
नयी दिल्ली। सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने सड़क निर्माण कंपनी (आरसीसी) की कमान संभालने के लिए पहली बार एक महिला अधिकारी को नियुक्त किया है। संगठन पास भारत-चीन सीमा पर ऊंचाई वाले एक इलाके में (सड़क)संपर्क उपलब्ध कराने का जिम्मा है। अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि महाराष्ट्र के वर्धा की रहने वाले वैशाली एस हिवासे चुनौतीपूर्ण माहौल में अपने कर्तव्य को अंजाम देंगी। बीआरओ ने बताया कि वैशाली के पास एम टेक की डिग्री है और वह करगिल में एक कार्यकाल पूरा कर चुकी हैं। उसने कहा कि यह बीआरओ द्वारा एक विनम्र शुरुआत है जो महिला सशक्तिकरण के एक नए युग की शुरूआत करेगा जिसमें महिला अधिकारी और अधिक मुश्किल जिम्मेदारियों को संभालेंगी।

उत्तर प्रदेश में बढ़ा लॉकडाउन का दायरा, अब शुक्रवार से मंगलवार तक रहेगी तालाबंदी

Image
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में लगातार कोरोना वायरस के केस बढ़ते जा रहे हैं। सरकार चाहे कोई भी दावा करें लेकिन सच्चाई क्या है वह कोरोना के आंकडे बता रहे हैं। महाराष्ट्र, दिल्ली के बाद अब कोरोना के केस उत्तर प्रदेश में भी काफी बड़ी संख्या में आ रहे हैं। 30-35 हजार केस और सेकड़ों की जान रोजाना जा रही हैं। हालात को देखते हुए इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने यूपी के 6 बड़े जिलों में लॉकडाउन लगा दिया था जिसे योगी सरकार ने उच्चतम न्यायालय में चुनौती देकर रोक दिया। अब लगातार कोरोना की दूसरी लहर के प्रकोप को देखते हुए योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। उत्तर प्रदेश में अब हफ्ते में शुक्रवार रात से लॉकडाउन शुरू होता और मंगलवार सुबह 5 बजे तक रहेगा। यानी की अब लॉकडाउन हफ्ते में तीन दिन होगा। पहले सरकार ने  कुछ कोरोना से ज्यादा प्रभावित जिलों में वीकेंड का लॉकडाउन लगवाया था लेकिन अब खराब होती स्थिति को देखते हुए हफ्ते में तीन दिन का लॉकडाउन कर दिया गया है।  आपको बता दें कि एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 3,79,257 मामले दर्ज किए गए जिसके बाद संक्रमण के कुल मामले 1,83,76,524 हो गए है। केंद्रीय स्वास्थ्य म

तबीयत खराब, फिर भी लगा दी चुनाव में शिक्षिका की ड्यूटी, मतदान शुरू होने से पहले बिगड़ी तबीयत

Image
शाहजहांपुर। शाहजहांपुर में यूपी पंचायत चुनाव में ड्यूटी के दौरान एक शिक्षिका की हालत बिगड़ गई। हालत बिगड़ने पर जिला प्रशासन से किसी तरह की मदद न मिलने पर शिक्षिका ने ऑडियो और वीडियो जारी करके अपना दर्द बयां किया है। शिक्षिका तेज खांसी-बुखार से पीड़ित थी और उसके पति का बुधवार को ही कोविड-19 का टेस्ट हुआ है। अपर्णा नाम की शिक्षिका उच्च प्राथमिक विद्यालय बखिया ददरौल ब्लॉक में तैनात है, जिसकी ड्यूटी पंचायत चुनाव में कलान ब्लॉक के उच्च प्राथमिक विद्यालय दसिया में लगाई गई थी। ड्यूटी से पहले महिला ने अधिकारियों को बताया था कि उसकी हालत खराब है, उसे तेज खांसी और बुखार की शिकायत है, लेकिन अधिकारियों ने जबरन उसे ड्यूटी पर भेज दिया। गुरुवार सुबह मतदान शुरू होते ही महिला की हालत बिगड़ गई। महिला को सांस लेने में दिक्कत होने लगी, जिसके बाद वहां मौजूद कर्मचारियों ने शिक्षिका को स्कूल में ही जमीन पर लेटा दिया। इस दौरान शिक्षिका ने सेक्टर मजिस्ट्रेट से फोन पर बात करके चिकित्सीय मदद पहुंचाने की गुहार लगाई। शिक्षिका का आरोप है कि कई बार फोन करने के बाद भी जिला प्रशासन की तरफ से किसी तरह की कोई मदद नहीं म

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की मदद से दशरथ मेडिकल कालेज में लगा ऑक्सीजन प्लांट

Image
अयोध्या। अयोध्या में श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के साथ अन्य सहयोग के माध्यम से अयोध्या स्थित राजर्षि दशरथ मेडिकल कालेज में 4 ऑक्सीजन प्लांट इंस्टाल किए गए हैं। ये ऑक्सीजन प्लांट 30 बेड पर लगातार ऑक्सीजन की सप्लाई कर रहे है। इसके साथ में 13 कंसर्टेटर से 54 बेडों पर ऑक्सीजन की दी जा रही है। महिला चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्लांट स्टाल करने के लिए आर्डर दे दिया गया है। इसके साथ में जिला चिकित्सालय व श्रीराम चिकित्सालय में भी ऑक्सीजन प्लांट लगाया जायेगा। सीएमओ डा घनश्याम सिंह के मुताबिक एक ऑक्सीजन प्लांट करीब 10 जम्बो सिलेण्डर के बराबर ऑक्सीजन सप्लाई देगा। मेडिकल कालेज में 30 बेड पर ऑक्सीजन पाईप लाईन है। मंगलवार की रात से इसकी शुरुवात कर दी गयी है। इन बेड पर ऑक्सीजन मरीजों को मिलने लगी है। महिला चिकित्सालय में 100 बेड के लिए ऑक्सीजन प्लांट के लिए आर्डर दे दिया गया है। पाईप लाईन बिछाने के बाद इसे स्टाल किया जायेगा। इसमें करीब 15 से 20 दिन लगेंगे। यह 100 बेड को सप्लाई देगा। इसके अतिरिक्त प्रधानमंत्री रिलीफ फंड से ऑक्सीजन प्लांट जिला चिकित्सालय में लगेगा। वहीं सांसद निधि से श्रीराम चिकित्सालय

कोविड अस्पताल में तैनात स्टेटिक मजिस्ट्रेट पर डीएम के आदेश पर एफआईआर

Image
कानपुर ब्यूरो। कानपुर डीएम आलोक तिवारी ऐक्शन में हैं। काम में लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों के खिलाफ सख्त रवैया अपना रहे हैं। चाहे वह जिला प्रशासन का अधिकारी हो या फिर स्वास्थ्य महकमे का कर्मचारी हो। डीएम आलोक तिवारी ने एडीएम सिटी के साथ कोविड स्टेट्स कृष्णा हॉस्पिटल का औचक निरीक्षण किया था, जिसमें हॉस्पिटल में स्टेटिक मजिस्ट्रेट के पद पर तैनात वाणिज्यकर के अधिकारी मसूद अख्तर खान ड्यूटी से नदारत मिले थे। डीएम आलोक तिवारी के आदेश पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट के खिलाफ रेल बाजार थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है। डीएम आलोक तिवारी ने सभी कोविड स्टेट्स अस्पतालों में स्टेटिक मजिस्ट्रेटों की तैनाती की थी। स्टेटिक मजिस्ट्रेट की निगरानी में कोविड मरीजों का इलाज हो सके। कोविड स्टेट्स हॉस्पिटल मरीजों से मनमानी वसूली न कर सके। प्रशासन ने जो शुल्क निर्धारित किया है, अस्पताल उससे अधिक बिल ना ले सकें और जरूरतमंदों को बेड दिलाने में उनकी मदद करें। सभी कोविड अस्पतालों में आठ-आठ घंटे की ड्यूटी में स्टेटिक मजिस्ट्रेट को तैनात किया गया है। डीएम के निरीक्षण में दो दिनों से थे नदारत स्टेटिक मजिस्ट्रेट मसूद अख्तर

गन्ने के जूस में मिला वोटरों को बांटी ‘चुनावी शराब’, 10 की मौत, 2 अरेस्ट

Image
  बीमारी से मौत बताकर पल्ला झाड़ती रही पुलिस आनन-फानन में गिरफ्तार किए 2 प्रधान प्रत्याशी गन्ने के जूस में मिलाकर बांटी थी शराब शराब की सप्लाई करने वाला फरार,हत्या का केस दर्ज मेरठ। यूपी में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान जहां प्रशासनिक अधिकारियों से लेकर आबकारी विभाग का तमाम अमला पिछले कई महीनों से नकली शराब पर शिकंजा कसने के दावे कर रहा था। वहीं मेरठ जिले में पंचायत चुनाव के मतदान से दो दिन पहले प्रधान प्रत्याशियों की बांटी गई जहरीली शराब पीने से तीन दिन में 10 ग्रामीणों की मौत हो गई। शुरुआती दौर में घटना पर पर्देदारी कर रहा प्रशासनिक अमला मामला हाईलाइट होते ही अलर्ट मोड में आ गया। जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में अपनी तरफ से तीन लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करते हुए दो प्रधान प्रत्याशियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसी के साथ शराब के दो ठेकों को सील करते हुए पुलिस अब जांच में जुट गई है। दरअसल मेरठ में 26 अप्रैल को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए मतदान होना था। मगर इससे पहले जिले के इंचौली थाना क्षेत्र के सधारणपुर गांव से प्रधान पद के दो प्रत्याशियों ने बीती 24 अप्रैल को गांव

सेना ने दी आगरा को सांसें, रात भर की मशक्कत के बाद हवा से आक्सिजन बनाने का प्लांट शुरू

Image
आगरा। कोविड संक्रमण के बीच आक्सिजन के लिए तड़प रहे संक्रमितों को अब आक्सिजन की परेशानी नहीं होगी। सेना ने आगरा के संक्रमितों की सांसों का इंतजाम कर दिया है। बुधवार को सेना के विमान ने अहमदाबाद पहुंचकर कम्प्रेशर और अन्य पार्ट्स लेकर आगरा लौटा और को रिप्लेस किया। बुधवार सुबह पहले सेना का विशेष विमान रांची के लिए निकला और वहां से लिक्विड ऑक्सिजन की व्यवस्था की। साथ ही एक विशेष विमान अहमदाबाद गया और वहां से अग्रवाल ऑक्सिजन प्लांट के खराब पार्ट्स को बदलकर नए पार्ट्स लेकर देर रात आगरा पहुंचा। इसके बाद सेना के ट्रक ने पार्ट्स को टेढ़ी बगिया स्थित प्लांट पर पहुंचाया और खुद रात भर मेहनत कर प्लांट को दोबारा शुरू किया। ट्रायल सक्सेस होने के बाद गुरुवार शाम से प्लांट चलने की उम्मीद है। बताया जा रहा है कि यह प्लांट हवा से आक्सिजन निकालता है और 1400 से 1500 सिलिंडर रोज तैयार होते हैं। आगरा में सिकन्दरा और टेढ़ी बगिया दो प्लांट पर ऐसी मशीन हैं।

कोरोना से जहाजरानी मंत्रालय के महानिदेशक समेत 12 की मौत

Image
ग्रेटर नोएडा। जिले में कोरोना से 24 घंटे में 12 लोगों की मौत हो गई। सेक्टर-24 स्थित दीप पोत एवं दीप स्तंभ महानिदेशालय, जहाजरानी मंत्रालय के महानिदेशक ई. मूर्ति की भी सुबह कोरोना से जान चली गई। जिले में अब तक 192 लोगों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि सभी मरीजों की हालत गंभीर थी। मंगलवार को भी 12 लोगों की संक्रमण से मौत हुई थी। वहीं, बुधवार को 903 नए मरीजों में वायरस की पुष्टि हुई है। इसमें से अधिकतर मरीज होम आइसोलेशन में हैं। जिले के विभिन्न अस्पतालों में लोगों ने दम तोड़ा है। चार मौतें फोर्टिस, दो मेट्रो और दो शारदा अस्पताल में हुई हैं। जबकि स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि जिले में 10 मौतें हुई हैं, लेकिन पोर्टल पर 2 अतिरिक्त मौतों की गलत जानकारी अपलोड कर दी गई है। उसे ठीक कराया जाएगा। इसके अलावा 24 घंटे में ठीक होने पर 588 लोगों को डिस्चार्ज किया गया है। अब तक कुल 31125 लोग संक्रमण को मात देकर ठीक हो चुके हैं। पहली बार जिले में सक्रिय 7202 मरीज हो गए हैं। जिले में नहीं मिला बेड तो महानिदेशक को आर्मी अस्पताल में कराया था भर्ती सेक्टर-34

यूपी के नवाबगंज से भाजपा विधायक केसर सिंह गंगवार का कोरोना संक्रमण सेे निधन

Image
नोएडा। नवाबगंज विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक केसर सिंह गंगवार बुधवार को नोएडा में निधन हो गया। वह कोरोना संक्रमण से ग्रस्त थे जिससे उनकी मृत्यु हो गई। उनकी मौत से पूरे परिवार में शोक की लहर दौड़ गई है। उनकी पत्नी ऊषा गंगवार जिला पंचायत अध्यक्ष रह चुकी हैं। कोरोना पीड़ित होने के बाद उनके बेटे ने मुख्यमंत्री को ट्वीट करके सहायता मांगी थी। जिसके बाद उन्हें नोएडा के एक यथार्थ सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में भर्ती किया गया था।

गाजियाबाद में पूर्व मुख्यमंत्री की पुत्रवधू को श्मशान घाट में नहीं मिली जगह

Image
चार घंटे इंतजार के बाद ब्रजघाट में जाकर किया अंतिम संस्कार  पूर्व सीएम बाबू बनारसी दास की पुत्रवधू वीना अग्रवाल का हुआ निधन  गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबू बनारसी दास की पुत्रवधू के शव का अंतिम संस्कार करने के लिए भी परिजनों को हिंडन मोक्ष स्थली पर प्लेटफार्म नहीं मिला। शव के अंतिम संस्कार के लिए परिजन करीब चार घंटे तक हिंडन घाट पर इंतजार करते रहे। इसके बाद भी शव का अंतिम संस्कार न हो सका तो वह ब्रजघाट पहुंचे और शव का अंतिम संस्कार किया।  पूर्व मुख्यमंत्री बाबू बनारसी दास के पुत्र व पूर्व एमएलसी हरेंद्र अग्रवाल की पत्नी वीना अग्रवाल (64) कोरोना संक्रमित थीं। उनका वैशाली के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। बुधवार को उनका निधन हो गया। कांग्रेस जिलाध्यक्ष बिजेंद्र यादव ने बताया कि नगर निगम के अपर नगरायुक्त और नगर स्वास्थ्य अधिकारी को इसकी सूचना दे दी गई और शव के अंतिम संस्कार की व्यवस्था के लिए कहा गया।  उन्होंने 12 बजे शव लाने के लिए कहा। उन्होंने बताया कि शव को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया, लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री की पुत्रवधू को भी श्मशान में जगह न मिली। करीब चार

गाजियाबाद के अस्पतालों में मौजूद है रेमडेसिविर इंजेक्शन, फिर भी मरीजों परिजनों से मंगा रहे थे इंजेक्शन

Image
सूर्य प्रकाश,(गाजियाबाद)। कोरोना से बचाने वाले रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की सूचना प्रशासन को लगातार मिल रही थी, जिसे गम्भीरता से लेते हुए एसपी डॉ. ईराज राजा और एसडीएम आदित्य प्रजापति ने गाजियाबाद के दो अस्पतालों पर अचानक छापेमारी की तो यहां स्टॉक में रेमडेसिविर इंजेक्शन पाए गए, जबकि इन अस्पतालों में भर्ती मरीजों के परिजनों से ही इंजेक्शन उपलब्ध कराए जाने की बात कही जा रही थी। दोनों अस्पतालों की छापेमारी के बाद पुलिस ने दोनों के ही कंप्यूटर अपने कब्जे में ले लिए हैं और जो स्टॉक में इंजेक्शन मौजूद हैं, उसके आधार पर कंप्यूटर से मिलान करते हुए गहनता से जांच की जा रही है। इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए एसपी डॉ. ईराज राजा ने बताया कि गणेश अस्पताल और नागर अस्पताल में भर्ती लोगों के परिजनों से सूचना मिल रही थी कि उनसे लगातार रेमडेसिविर इंजेक्शन बाहर से मंगाए जाने के लिए कहा जा रहा है, जबकि सभी अस्पतालों को इंजेक्शन की सप्लाई हो रही है। एसपी ने बताया कि शिकायत के आधार पर उन्होंने देर रात एसडीएम आदित्य प्रजापति के साथ मिलकर इन दोनों अस्पतालों में बुधवार देर रात अचानक छापेमारी की गई त

गाजियाबाद में वरिष्ठ पत्रकार का कोरोना वायरस से निधन

Image
गाजियाबाद ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में वरिष्ठ पत्रकार राजू मिश्रा (50) का कोरोना वायरस के कारण बुधवार सुबह निधन हो गया। सूत्रों ने यह जानकारी दी है। उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के मूल निवासी मिश्रा ने कई राष्ट्रीय अखबारों में काम किया और जब वह कोरोना वायरस से संक्रमित हुए तो उन्होंने खुद को घर में पृथक कर लिया था लेकिन उनकी हालत खराब हो गयी तो मिश्रा के परिवार के सदस्यों और कुछ अन्य पत्रकारों ने उन्हें एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन वह संक्रमण से उबर नहीं सके। सरकारी अस्पताल से मिश्रा को एक निजी अस्पताल में रेफर कर दिया गया जहां उनका बुधवार सुबह निधन हो गया। उनकी पत्नी भी कोविड से संक्रमित हैं और उसी अस्पताल में भर्ती हैं। मिश्रा के साथी पत्रकार सुब्रत भट्टाचार्य ने दावा किया कि पत्रकार का निधन इलाज के दौरान अपर्याप्त सुविधाओं की वजह से हुआ है।

दिल्ली में आग बुझाने वाले सिलेंडरों को आक्सीजन सिलेंडर कहकर कर रहे थे ठगी

Image
दिल्ली ब्यूरो। राजधानी में जिस तरह से कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हुआ है उसी तेजी के साथ कालाबाजारी करने वालों की संख्या भी काफी बढ़ गई है। अभी तक एक दर्जन से अधिक ऐसे लोग पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं जो कोरोना के इलाज में इस्तेमाल की जाने वाली दवाओं और अन्य चीजों की कालाबाजारी कर रहे हैं। रेमडेसिवीर दवा के तो मुंहमांगे दाम मांगे जा रहे हैं, लोग इसका मुंहमांगा दाम देने को भी मजबूर हैं। इसके अलावा आक्सीजन सिलेंडर की किस तरह से कालाबाजारी हो रही है ये भी किसी से छिपा नहीं है। और तो और अब तो ठग आग बुझाने में इस्तेमाल किए जाने वाले सिलेंडरों को भी आक्सीजन सिलेंडर कहकर बेच दे रहे हैं। एक बार पैसा हाथ में आ जाने के बाद फिर मरीज के परिजन इनको खोजते रह जाते हैं। संतोष कुमार मीणा, डीसीपी द्वारका, दिल्ली ने अग्निशामक सिलेंडर को ऑक्सीजन सिलेंडर बताकर बेचने के मामले में ऐसे ही 2 आरोपियों को गिरफ़्तार किया है। इनके पास से 5 सिलेंडर भी बरामद किए गए हैं। फिलहाल पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है इन लोगों से जब पुलिस ने कालाबाजारी करने के बारे में पूछा तो इन्होंने बताया कि ये आग बुझाने वाले सिलेंडर

भाई-बहन संक्रमित, दिल्ली पुलिस ने कराया बुजुर्ग का अंतिम संस्कार

Image
सोशल मीडिया से खबर मिलने के बाद पुलिस ने कराया बुजुर्ग का अंतिम संस्कार बहन-भाई की काउंसलिंग कराकर दोनों को खाना उपलब्ध करवाया इसके बाद कोरोना से मरे पिता का लोधी रोड स्थित शमशान घाट में अंतिम संस्कार कराया दिल्ली ब्यूरो। कोरोना की इस घड़ी में जहां अपनों ने भी मुंह मोड़ लिया है, ऐसे समय में दिल्ली पुलिस लोगों के लिए मसीह का काम कर रही है। अपने इस नेक काम के लिए दिल्ली पुलिस के जवान अपना जीवन भी दांव पर लगा रहे हैं। कोटला मुबारकपुर में कुछ ऐसा ही हुआ। एक घर में बुजुर्ग की कोरोना से मौत हो गई। घर में मौजूद बेटा-बेटी की भी हालत खराब थी।  बुजुर्ग का अंतिम संस्कार करने वाला कोई नहीं था। सोशल मीडिया से खबर मिलने के बाद कोटला थाना पुलिस घर पहुंची। दोनों बहन-भाई के खाने-पीने का इंतजाम कराने के बाद बुजुर्ग पिता का लोधी  कालोनी थाने में अंतिम संस्कार करवाया गया। बहन-भाई को आगे भी मदद का भरोसा दिया गया। दक्षिण-जिला पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि मंगलवार देर रात करीब 11.30 बजे पुलिस को सोशल मीडिया से एक मैसेज मिला था। उसमें एक युवक अपनी बहन के साथ मिलकर मदद की गुहार लगा रहा था। कोटला

दिल्ली पुलिस ने शुरू किया लोगों की जीवन रक्षा का अभियान, बनाया प्लाज्मा बैंक

Image
नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के इस दौर मे दिल्ली पुलिस ने संक्रमित मरीजों की मदद के लिए हर वह संभव प्रयास कर रही है। अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी दूर करने के साथ ही अब पुलिस मरीजों को प्लाज्मा भी मुहैया करा रही है। 24 अप्रैल को दिल्ली पुलिस ने प्लाज्मा दान करने के लिए शुरू की गई जीवन रक्षक अभियान भी सफल हो रहा है। इस अभियान के तहत प्लाज्मा डोनर डाटा बैंक से अब तक नौ लोगों ने प्लाज्मा दान किया है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि ऑक्सीजन के साथ ही मरीजों को प्लाज्मा की भी बेहद जरूरत है। ऐसे में दिल्ली पुलिस ने अपनी आधिकारिक बेवसाइट पर प्लाज्मा डोनर और प्लाज्मा की जरूरत वाले मरीजों का एक डिजिटल डाटा बैंक तैयार किया है । इससे अब तक 87 लोगों ने प्लाज्मा दान करने के लिए खुद को पंजीकृत किया है। इनमें से 78 लोगों को डॉक्टरों ने किसी न किसी वजह से अयोग्य करार दिया। वहीं प्लाज्मा लेने वाले 572 लोगों ने जीवन रक्षक डाटा बैंक पर खुद को पंजीकृत है। दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता चिन्मय बिश्वाल ने बताया कि प्लाज्मा दान करने के लिए आईएलबीएस ने जो मानक तय किए हुए हैं, उनके अनुसार बस नौ ही लोग प्लाज्मा दान कर सके। 27

दिल्ली में चिताओं की नहीं बुझ रही आग, लोग खौफजदा, श्मशान घाटों पर लंबी कतारें

Image
दिल्ली ब्यूरो। सैनिटाजेशन के बाद शव की पैकिंग, फिर पीपीई किट में अपने परिजन का अंतिम संस्कार के लिए पहुंचने वालों की फेहरिस्त लगातार लंबी हो रही है। कोरोना की वजह से अपनों को खोने वाले इस कदर खौफजदा हैं कि अब उफ भी नहीं निकल रही है। महिलाएं, युवा सभी अपनों को अंतिम विदाई देने के लिए सभी एहतियातों का पालन करते हुए पूरे दिन पहुंचते रहे। कोरोना संक्रमण के कारण मौत की बढ़ती संख्या से श्मशान में शवों को अंतिम संस्कार करने से पहले किसी को बात करने की भी फुर्सत नहीं। द्वारका सेक्टर-24 के इस श्मशान में तयशुदा से 25 गुना अधिक शवों का रोजाना अंतिम संस्कार किया जा रहा है। हालात इस कदर बिगड़ चुके हैं अपने परिजनों के अंतिम संस्कार में शरीक न हो पाने वालों को इस बात की चिंता सता रही है कि अस्थियां सुरक्षित रखने के लिए अब लॉकर भी उपलब्ध नहीं है। कोरोना की चपेट में आकर जान गंवाने वाले लोगों की तादाद इतनी बढ़ गई है कि एक चिता के बुझने से पहले दूसरे शव का अंतिम संस्कार शुरू कर दिया जाता है।   10 दिनों में 500 से अधिक शवों का हो चुका है अंतिम संस्कार द्वारका स्थित शवदाह गृह का संचालन करने वाली संस्था श्

दिल्ली के बिजवासन इलाके में गैस सिलेंडर फटने से लगी आग, छह लोग जिंदा जले

Image
दिल्ली ब्यूरो। दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के कापसहेड़ा स्थित बिजवासन गांव में बुधवार देर रात एक दर्दनाक हादसे में एक ही परिवार के छह लोगों की मौत हो गई। खेतों में बनी दो झुग्गियों में आग लगने के बाद उसमें रखे एलपीजी सिलिंडर ब्लास्ट हो गया। हादसे में दंपती और उनके चार बच्चों की मौत हो गई।  मृतकों की शिनाख्त कमलेश सिंह (37) उसकी पत्नी पूनम उर्फ बिंदनी (35), बेटी अंजली (16) अराधना (12) बेटे सुरजीत उर्फ गोलू (8) और तीन माह के मासूम के रूप में हुई है। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस के अलावा दमकल की चार गाड़ियां मौके पर पहुंचीं। किसी तरह आग पर काबू पाकर झुग्गी से सभी के शव बुरी तरह जली हालत में निकाले गए। बाद में सभी को मोर्चरी भेज दिया गया है।  कापसहेड़ा थाना पुलिस मामला दर्ज कर छानबीन में जुटी है। हादसे के समय बराबर वाली झुग्गी में एक परिवार के पांच लोगों ने भागकर अपनी जान बचाई। पुलिस उनसे पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है। पुलिस उपायुक्त के मुताबिक हादसा देर रात करीब 12.28 बजे मातुराम का खेत, बिजवासन गांव में हुआ। यहां एक खेत पर तीन झुग्गियां बनी हुई थी। सभी सब्जी उगाने का काम करते थे। मूलरूप से

आरएसएस के ऑफिस के बाहर नकाबपोशों ने की फायरिंग

Image
पूर्वी दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्वी विभाग के शकरपुर स्थित जिला कार्यालय के बाहर दो नकाबपोश बदमाश सरेशाम फायरिंग कर गए। कई राउंड गोलियां चलाने के बाद दोनों नकाबपोश बदमाश बड़े आराम से वहां से निकल गए। यह पूरी वारदात सामने लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। संघ से जुड़ा मामले होने से पुलिस के आला अफसर तत्काल मौके पर आ गए। पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है। आसपास के सीसीटीवी कैमरे कब्जे में लेकर उनकी फुटेज खंगाली जा रही है। संघ और बीजेपी नेताओं ने बुधवार को पुलिस के आला अफसरों से मिलकर जल्द ही आरोपियों को पकड़ने की मांग की है। जानकारी के मुताबिक, शकरपुर के मधुकर पार्क स्थित आरएसएस से जिला कार्यालय में प्रचारक रहते हैं। मंगलवार शाम करीब 6:15 बजे दो नकाबपोश बदमाश वहां पहुंचे और आसपास घूमकर मुआयना किया। लॉकडाउन होने की वजह से आसपास के सभी लोग अपने घरों के भीतर थे। इसके बाद एक बदमाश ने संघ कार्यालय के गेट को खटखटाया। लेकिन उस समय वहां रहने वाले जिला प्रचारक और विस्तारक मौजूद नहीं थे। इसलिए कोई भी गेट खोलकर बाहर देखने नहीं आया। कुछ देर तक बदमाश बाहर इंतजार करते रहे। लेकिन

मददगार बना न्यूजीलैंड! दूसरी लहर से लड़ रहे भारत की मदद के लिए देगा 10 लाख डॉलर

Image
मेलबर्न/वेलिंगटन। न्यूजीलैंड कोविड-19 के बढ़ते मामलों से जूझ रहे भारत की मदद के लिए रेड क्रॉस को करीब 7,20,365 अमेरिकी डॉलर की राशि देगा। विदेश मंत्री ननाइया महुता ने बुधवार को यह घोषणा की। मदद की यह घोषणा ऐसे वक्त में हुई है जब भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के सर्वाधिक 3,60,960 मामले सामने आये जबकि संक्रमण से 3,293 लोगों की मौत हुई। महुता ने कहा, ‘‘इस मुश्किल वक्त में हम भारत के साथ हैं और जिंदगियों को बचाने के लिए निरंतर काम कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम मोर्चा के कर्मियों के प्रयासों की सराहना करते हैं।’’ न्यूजीलैंड हेराल्ड ने महुता के हवाले से लिखा, ‘‘द्वीपीय देश कोविड-19 की दूसरी लहर से जूझ रहे भारत की मदद के लिए अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस संघ को 10 लाख न्यूजीलैंड डॉलर का योगदान करेगा।’’ अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस संघ (आईएफआरसी) ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑक्सीजन सांद्रक और अन्य जरूरी चिकित्सकीय सामग्री की अपूर्ति में सीधे तौर पर स्थानीय इंडियन रेड क्रॉस सोसाइटी के साथ काम कर रहा है। महुता ने कहा, ‘‘हमलोग स्थिति पर लगातार नजर रख रहे हैं और भारत सरकार की मदद के लिए तैयार हैं। खतरना

कोरोना से लड़ने के लिए कनाडा देगा भारत को एक करोड़ डॉलर की मदद, मेडिकल सामान के लिए इस्तेमाल होगी राशि

Image
ओटावा। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा है कि उनका देश कोविड-19 महामारी से निपटने में भारत को एक करोड़ डॉलर की मदद मुहैया कराएगा। ट्रूडो ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि विदेश मंत्री मार्क गार्नो की भारत में अपने समकक्ष एस जयशंकर से बात हुई है कि कनाडा किस तरह की मदद मुहैया करा सकता है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘हम कनाडा रेड क्रॉस के जरिए भारतीय रेड क्रॉस को एक करोड़ डॉलर मुहैया कराने को भी तैयार हैं।’’ उन्होंने कहा कि इससे एंबुलेंस से लेकर पीपीई जैसे कई उपकरण खरीदने में मदद मिलेगी। दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच बातचीत के बारे में ट्रूडो ने कहा, ‘‘हम किस तरह मदद कर सकते हैं इसको लेकर हमारी बातचीत चल रही है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारत से जिस तरह की त्रासद और खौफनाक तस्वीरें आ रही है, कनाडा उससे काफी चिंतित है।’’ इससे पहले विदेश मंत्री गार्नो ने ट्विटर पर कहा कि उन्होंने कोविड-19 से बनी स्थिति को लेकर अपने भारतीय समकक्ष जयशंकर से बात की और भारत के लोगों के प्रति कनाडा की एकजुटता का संदेश दिया। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में रिकॉर्ड 3,60,960 नये मामल

कोरोना वायरस साल 2020 से नहीं बल्कि 25 हजार साल पहले से इंसानों को बना रहा अपना शिकार! रिसर्च में खुलासा

Image
 कोरोना महमारी से लोगों की जिंदगी पहले जैसी नहीं रही है। अब आपको बाहर ही नहीं बल्कि घरों के अंदर भी मास्क पहनना काफी जरूरी हो गया है। इस महामारी से लोगों के अंदर एक डर बैठ गया है क्योंकि देश में जिस तरह के हालात है उससे लोगों का डरना स्वाभाविक है। वहीं अस्पतालों में बेड औऱ ऑक्सीजन की भारी मात्रा में कमी होने से आम लोगों की जिंदगी दाव पर लग गई है। सब यही दुआ कर रहे है कि यह कठिन वक्त जल्द से जल्द गुजर जाए लेकिन चीन के शहर वुहान से आया साल 2020 में यह वायरस जो अब पूरे दुनियाभर में अपना कहर बरपा रहा है आज से धरती पर नहीं है। जी हां, आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन यह जो कोरोना महामारी है जिसकी वजह से आज पूरी दुनिया में डर का माहौल है वह लगभग 25 साल पहले से लोगों को परेशान कर रहा है।  जानकारी के मुताबिक, यूनिवर्सिटी ऑफ एरिजोना के असिस्टेंट प्रोफेसर डेविड एनार्ड ने कोरोना महामारी को लेकर रिसर्च की है और उनका यह रिसर्च bioRxiv में भी पब्लिश हुआ है। यहां देखिए यह लिंक- https://www.biorxiv.org/content/10.1101/2020.11.16.385401v2 हालांकि, अब साइंस जर्नल में पब्लिश कराने के लिए रिव्यू किया जा रहा ह

कानपुर से माता वैष्णो देवी पहुंचा युवक, सोशल साइट पर डाली सुसाइड की पोस्ट

Image
जम्मू। श्री माता वैष्णो देवी भवन पर उत्तर प्रदेश के एक भक्त ने आत्महत्या का प्लान बनाया। इसके लिए उसने अपने सोशल अकाउंट पर पोस्ट भी शेयर कर दी। पोस्ट के माध्यम से परिजनों और दोस्तों को पता चला। इसके बाद परिजनों ने पुलिस से संर्पक किया गया। उसके बाद व्यक्ति को कमरे से पकड़ लिया गया। पुलिस ने उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। जांच के दौरान पता चला है कि वह घर से आत्महत्या का प्लान बनाकर ही आया हुआ था। जानकारी के अनुसार, भवन पुलिस को एक सूचना मिली कि इस समय भवन पर एक भक्त, जोकि घर से दर्शन के लिए आया हुआ है, वह आत्महत्या करने का प्लान बना रहा है। उसने सोशल साइट पर एक पोस्ट को शेयर किया है, जिसमें वह अपने आत्महत्या करने की बात को लिख रहा है। यह सूचना उसके परिजनों से पुलिस को आई। भक्त की पहचान यूपी के कानपुर जिले के आजाद नगर निवासी विजय वाजपेयी के रूप में हुई है। इस सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस तुरंत हरकत में आई, जिसके बाद पता चला कि वह भवन पर मनोकामना भवन में ठहरा हुआ है। उसके बाद पुलिस कमरे में पहुंची और उसे पकड़ लिया गया। जब उसे थाने में लाया गया तो उसने बताया कि वह कमरे केअंदर ही आत

महाराष्ट्र के रत्नागिरी की दवा कंपनी में लगी भीषण आग

Image
रत्नागिरी,(महाराष्ट्र)। महाराष्ट्र के कोंकण इलाके के रत्नागिरी में मौजूद एम आर फार्मा प्राइवेट लिमिटेड नाम की फैक्ट्री में आज सुबह तकरीबन 11 बजे अचानक आग लग गई। जिसकी वजह से फैक्ट्री में अफरा-तफरी मच गई थी। आनन-फानन में दमकल विभाग को आग की सूचना दी गई। जिसके बाद तकरीबन 4 घंटे की मशक्कत के बाद 11:45 पर इस आग पर काबू पाया गया। गनीमत की बात यह रही कि इस आग में किसी के भी हताहत या घायल होने की जानकारी अभी तक सामने नहीं आई है। जब यह आग लगी तब फैक्ट्री में तकरीबन 8 मजदूर काम कर रहे थे। इस फैक्ट्री में केमिकल बनाया जाता है। यह फैक्ट्री रत्नागिरी के खेड़ एमआईडीसी मौजूद है। मुंबई से सटे इलाके में भी बीती रात प्राइम हॉस्पिटल में आग लगने की वजह से 4 मरीजों की दर्दनाक मौत हो गई थी। घटना के समय अस्पताल में तकरीबन 20 मरीज मौजूद थे। जिसमें से आठ आईसीयू वार्ड में थे। फिलहाल आग लगने के बाद सभी मरीजों को नजदीकी बिलाल हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया है। आग लगने की प्राथमिक वजह शार्ट सर्किट को बताया जा रहा है।

नागपुर के 85 साल के कोविड पॉजिटिव योद्धा ने पेश की मिसाल, अपना बेड एक युवा को दे दिया

Image
कोरोना महामारी से इस जंग में महाराष्ट्र के एक 85 साल के योद्धा ने एक मिसाल पेश की है नारायण नाम के इस शख्स ने अपना बेड एक युवा को यह कहते हुए दे दिया कि उसे जिंदगी की ज्यादा जरूरत है कोरोना पीड़ित नारायण की घर पर ही देखभाल की जाने लगी लेकिन तीन दिन बाद उनकी मौत हो गई नागपुर। देश में कोरोना के बढ़ते कहर के बीच लोग अलग-अलग तरह से पीड़ितों की मदद कर रहे हैं। कोई सोशल मीडिया के माध्यम से कोविड-19 से जूझ रहे मरीजों को ऑक्सिजन सिलेंडर की व्यवस्था करा रहा है तो कोई बेड की उपलब्धता की जानकारी दे रहा है। कोरोना महामारी से इस जंग में महाराष्ट्र के एक 85 साल के योद्धा ने एक मिसाल पेश की है। नारायण नाम के इस शख्स ने अपना बेड एक युवा को यह कहते हुए दे दिया कि उसे जिंदगी की ज्यादा जरूरत है। जानकारी के मुताबिक, नागपुर के रहने वाले नारायण दाभडकर कोविड पॉजिटिव थे। काफी मश्क्कत के बाद परिवार नारायण के लिए एक अस्पताल में बेड की व्यवस्था कर पाया। कागजी कार्रवाई चल ही रही थी कि तभी एक महिला अपने पति को लेकर हॉस्पिटल पहुंची। महिला अपने पति के लिए बेड की तलाश में थी। महिला की पीड़ा देखकर नारायण ने डॉक्टर से