नोएडा में बंद झुग्गी के कारण लगी आग, जता रहे आशंका, 1000 से ज्यादा लोग हुए बेघर


नोएडा। दोपहर करीब 1.00 बजे नोएडा के बहलोलपुर गांव की झुग्गियों में रहने वाले लोग तेज धूप और तपिश से बचने के लिए आराम कर रहे थे, तभी एक झुग्गी में आग लग गई जो देखते ही देखते फैल गई। एक मिनट के अंदर अन्य झुग्गियां और गोदाम आग की चपेट में आ चुके थे। जैसे-तैसे महिलाएं और पुरुष बच्चों को लेकर झुग्गियों से बाहर निकलने लगे।
झुग्गियों में सभी लोग आपस में परिचित हैं और बिहार के आस पड़ोस के नालंदा और शेखपुरा जिले के रहने वाले हैं। अग्निकांड में आंखों के सामने उजड़े आशियाने को देखकर महिलाएं व बच्चे फफककर रोते दिखाई दिए। नोएडा के बहलोलपुर गांव में आग की घटना के पीछे शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि नालंदा बिहार निवासी बिरजू परिवार के साथ गांव गया हुआ है। ऐसे में उसकी झुग्गी बंद थी। झुग्गी के आगे से बिजली का तार निकल रहा है। आशंका है कि शॉर्ट सर्किट होने से पहले बिरजू की झुग्गी में आग लगी। उसके बाद अन्य सभी झुग्गियों में आग फैल गई। लोगों ने बताया कि यहां प्रति झुग्गी दो हजार रुपये प्रतिमाह किराया लगता है। लोगों ने झुग्गी के साथ ही कुछ गज के गोदाम भी किराये पर ले रखे हैं। यहां पर लोग कबाड़ का सामान रखकर खरीद-बिक्री करते थे। गोदामों का प्रति गज के हिसाब से किराया लिया जाता है। पुलिस जांच में पता चला है कि बहलोलपुर गांव में रहने वाले प्रेम ने प्लॉट पर झुग्गियां किराये पर दे रखी थी। पुलिस जांच कर रही है कि यह झुग्गियां वैध थी या अवैध।

मुख्य अग्निशमन अधिकारी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि घटना की गंभीरता को देखते हुए चार अग्निशमन अधिकारी और 17 फायर टेंडर को मौके पर भेजा गया। आग का क्षेत्र काफी बड़ा था और वहां प्लास्टिक की पन्नी, बोतलें कबाड़ के ढेर जगह-जगह थे। इस कारण आग कम समय में ही फैल गई और दो घंटे में नियंत्रण पाया गया। पूर्ण रूप से आग बुझाने के बाद सर्च अभियान चलाकर झुग्गियों में जांच की जाएगी। बहलोलपुर गांव चोटपुर कॉलोनी हनुमान मंदिर के पास बनी झुग्गियों में आग लगने से बेघर हुए लोगों के लिए समाजवादी पार्टी के नेता सुनील चौधरी मौके पर पहुंचे। उन्होंने अग्निकांड से पीड़ित लोगों मदद का भरोसा दिया। उन्होंने घोषणा की कि सोमवार से समाजवादी रसोई से गरीब और बेघर लोगों की भोजन की व्यवस्था की जाएगी। उनके साथ सते प्रधान, कैलाश शाह, गौरव यादव, रामवीर आदि मौजूद रहे।
कई संस्थाओं ने बढ़ाए मदद को हाथ
आग लगने के बाद कई झुग्गी झोपड़ी के लोग खुले आसमान के नीचे आने पर मजबूर हो गए। शाम को शहर की कई संस्थाओं ने जरूरतमंदों की मदद के लिए हाथ बढ़ाया। समाजसेवी अनूप खन्ना ने वहां जाकर लोगों को खाना आदि वितरित किया। इसके अलावा चित्रगुप्त सभा ट्रस्ट के अध्यक्ष राजन श्रीवास्तव वहां टीम के साथ पहुंचे और एक हजार लोगों का खाना वितरित करवाया। साथ ही, सभी लोगों को कंबल वितरित किए।