कानपुर को मिलेगा 1000 बेड का अस्थाई कोविड अस्पताल, मंडलायुक्त ने रेलवे ग्राउंड का किया निरीक्षण

कानपुर ब्यूरो। कानपुर कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जंग लड़ रहा है। संक्रमितों को अस्पतालों में बेड के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। मंगलवार को एक राहत देने वाली खबर सामने आई है। कानपुर को बहुत ही जल्द 1000 बेड का अस्थाई कोविड अस्पताल मिलने वाला है। इसकी कवायद भी शुरू कर दी गई है। मंडलायुक्त डॉ. राजशेखर रेड्डी ने हॉस्पिटल निर्माण करने वाली एजेंसी और तमाम विभाग के आलाधिकारियों के साथ
रेलवे ग्राउंड का निरीक्षण किया।
कानपुर साउथ सिटी स्थित निराला नगर रेलवे ग्राउंड की जमीन को लगभग फाइनल माना जा रहा है। इस ग्राउंड में अधिकतर चुनाव के दौरान राजनीतिक पार्टियों की रैलिया होती हैं. क्षेत्रफल की दृष्टी से कोविड अस्पताल के लिए इससे बेहतर जगह नहीं मिल सकती है।
बीजेपी विधायकों ने की थी पहल
कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर एक अस्थाई कोविड अस्पताल बनाने की अनुमति मांगी थी। इसके बाद कानपुर शहर में बीजेपी विधायकों और एमएलसी ने अपनी निधी से एक-एक करोड़ रुपये अस्पताल के लिए देने को कहा था और मुख्यमंत्री को पत्र भी लिखा था। इस तरह के अस्पताल डीआरडीओ एसेंसी की तरफ से बनाए जा रहे है। दिल्ली, नागपुर, पुणे में इस तरह के अस्पताल बनाए गए हैं।
मंडलायुक्त डॉ. राजशेखर रेड्डी के साथ सीडीओ, जल निगम के इंजीनियर, केस्को, पीडब्लूडी और रेलवे के अधिकारियों ने भी निरीक्षण किया। इस दौरान जल निकासी, जल आपूर्ति, निकास और प्रवेश मार्ग, बिजली पार्किंग, सीवेज संबंधी मुद्दों पर चर्चा की गई। सभी विभागों के अधिकारियों से तीन दिनों विवरण मांगा गया है।
 

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर