शादी के दो महीने बाद घर से 15 लाख के जेवर और नकदी लेकर फरार हुई लुटेरी दुल्हन बहनें


ग्वालियर। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में दो लुटेरी दुल्हन की कहानी सामने आई है। दोनों उज्जैन की रहने वाली हैं। सगी बहनें बनकर दोनों ने 3 महीने पहले एक कपड़ा व्यवसायी के दो भाइयों से शादी की थी। शादी के दो महीने बाद ही घर से 8 लाख रुपये के गहने और 7 लाख रुपये नकद लेकर फरार हो गईं। पीड़ित व्यवसायी ने बिलौआ थाना में दोनों बहू, उनके कथित भाई संदीप मित्तल, रिश्ता कराने वाले सहित अन्य 6 लोगों पर FIR दर्ज कराई है। दरअसल बिलौआ थाना क्षेत्र के नागेन्द्र जैन कारोबारी हैं। उनका बिलौआ में कपड़े का व्यवसाय है। दिसंबर 2020 में उन्होंने अपने छोटे भाइयों दीपक जैन और सुमित जैन की शादी उज्जैन की नंदनी मित्तल व रिंकी मित्तल से की थी। रिश्ता दोनों लड़कियों के भाई संदीप मित्तल के सामने तय हुआ था। यह रिश्ता समाज के बाबूलाल जैन ने तय करवाया था। दोनों लड़कियों को वैश्य बनिया बताया गया था।
शादी के बाद नंदनी और रिंकी करीब 15 से 20 दिन तक ससुराल रहीं। बाद में मायके चली गईं। घटना का पता उस समय चला जब कई दिन बाद भी वे वापस नहीं आईं। हर बार आने का वादा करने के बाद भी वापस नहीं आईं। घर वालों को शक हुआ और कमरों की तलाशी ली तो पता चला कि दोनों बहनें घर का सारा जेवर और 7 लाख नकद समेट कर ले गई हैं। जेवर की कीमत लगभग 8 लाख रुपए है।
पीड़ित के अनुसार शादी के समय बताया गया था कि सगी बहनों के माता-पिता की मौत हो चुकी है। शादी कराने के नाम पर उनसे 7 लाख रुपये लिए गए थे। अब जांच में पता चला है कि एक दुल्हन का पहले से ही एक बेटा है। उज्जैन में दोनों दुल्हनों के खिलाफ शादी के बाद धोखाधड़ी की FIR भी पहले से ही दर्ज है।