बुलंदशहर में गोतस्करों से पुलिस की मुठभेड़, फायरिंग, 8 बदमाश गिरफ्तार


बुलंदशहर। बुलंदशहर की जहांगीराबाद पुलिस और स्वाट टीम ने शुक्रवार देर रात रिवाड़ा गांव के जंगल से मुठभेड़ के बाद 8 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पुलिस को सूचना मिली थी कि जंगल में बदमाश गोकशी की घटना को अंजाम देने की फिराक में हैं। मुठभेड़ के दौरान पुलिस की गोली लगने से 2 बदमाश घायल हुए हैं। घायल बदमाशों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
जानकारी के अनुसार, पुलिस को सूचना मिली थी कि जंगल में कुछ बदमाश गोकशी की घटना को अंजाम देने वाले हैं। सूचना पर पुलिस टीम ने बदमाशों की घेराबंदी की। बदमाशों ने खुद को घिरता देख पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर दी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई के दौरान अकबर और मेहंदी हसन उर्फ भालू उर्फ महमूद गोली लगने से घायल हो गए। पुलिस ने मौके से दो घायल समेत आठ बदमाशों को गिरफ्तार किया है।
वहीं, दो बदमाश टाटा 407 गाड़ियों को लेकर भागने में सफल रहे। पुलिस ने मौके से भारी मात्रा में अवैध असलहा, जिंदा गौवंश और गोकशी के उपकरण बरामद किए हैं। देर रात बदमाशों को उपचार के लिए सीएचसी जहांगीराबाद में भर्ती कराया गया है। घायल बदमाश अकबर थाना अरनिया का हिस्ट्रीशीटर अपराधी है। अकबर ने 2010 में थाना कोतवाली देहात क्षेत्र चोला चौराहे पर गोवंश से भरे अपने वाहन से पुलिस बैरियर को तोड़ते हुए कांस्टेबल चालक महेंद्र दत्त गौतम की घसीटकर कर हत्या कर दी थी।
पकड़े गए सभी बदमाश अंतरराज्यीय पशु चोर गिरोह के सदस्य हैं। घायल बदमाश अकबर व मेहंदी हसन के खिलाफ अन्य जिलों में भी दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि सभी पेशेवर गौ तस्कर हैं। आरोप है सभी बदमाशों पर अलग-अलग स्थानों में मुकदमे दर्ज हैं। फरार आरोपियों की तलाश के लिए टीम गठित कर दी गई है। उन्हें भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।