दिल्ली के निजामुद्दीन में साली से नजदीकी का विरोध करने पर 8 महीने की गर्भवती पत्नी की गोली मारकर हत्या


नई दिल्ली। हजरत निजामुद्दीन थाना इलाके में मंगलवार दिनदहाड़े एक महिला की गोली मारकर हत्या कर दी। उन्हें चार गोलियां मारी गईं। वह करीब 8 महीने की गर्भवती थी। हत्या का आरोप पति पर है। बीच-बचाव में आए पड़ोस के एक लड़के को भी गोली मारी गई। आरोपी पति दो अवैध पिस्टल लेकर आया था। आरोप है कि पहली पिस्टल से गोली नहीं चली तो उसने दूसरी पिस्टल निकालकर पत्नी पर कई गोलियां चलाईं। यह वारदात गली में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। फुटेज में पति बेखौफ होकर पत्नी के उपर दो पिस्तौल से कई गोलियां मारता दिखाई दे रहा है। पत्नी गली में घर के नीचे कुर्सी पर बैठी हुई थी। बताया जाता है कि वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी सीधा थाने गया। वहां उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उससे वारदात में इस्तेमाल दोनों अवैध पिस्तौल भी बरामद कर ली गई हैं। हत्या का कारण साली के साथ नजदीकी बताई जा रही है। पत्नी इस अवैध रिश्ते का विरोध करती थी, जिस वजह से कहासुनी भी हुई थी।
वारदात के बाद मौके पर ही रहा आरोपी
साउथ-ईस्ट दिल्ली के डीसीपी आरपी मीणा ने बताया कि मृतक महिला का नाम शाइना (29) है। जबकि आरोपी पति का नाम वसीम (32) है। वारदात में घायल हुए युवक का नाम शहादत बताया गया है। सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई वारदात मंगलवार सुबह 10:24 बजे से 10:27 बजे के बीच हुई। इस दौरान आरोपी वसीम अपनी पत्नी को गोली मारने के बाद मौके पर ही रहा। डीसीपी ने बताया कि इस बारे में सुबह 10:42 बजे पीसीआर कॉल मिली थी। जिसमें बताया गया था कि निजामुद्दीन इलाके में फायरिंग हुई है। मौके पर पहुंची पुलिस ने पाया कि वारदात में हुए दोनों घायलों को अस्पताल ले जाया गया है। वहां पहुंची पुलिस को पता लगा कि शाइना नाम की महिला की मौत हो चुकी है जबकि शहादत का इलाज चल रहा है। मामले में जांच करने पर पुलिस ने शाइना की हत्या करने के आरोप में इसके पति वसीम को पकड़ लिया।
जेल में थी पत्नी तो पति की बढ़ गई थी साली से नजदीकी
डीसीपी ने बताया कि शाइना एनडीपीएस मामले में जेल में बंद थी। वह करीब 8 महीने की गर्भवती थी। अभी 24 अप्रैल को इस आधार पर ही जेल से बाहर आई थी। हत्या का कारण शाइना के जेल में जाने के बाद आरोपी पति वसीम का शाइना की बहन रेहाना के नजदीक आना माना जा रहा है। मामले में रेहाना की भूमिका की भी जांच की जाएगी। पुलिस ने बताया कि जेल से बाहर आने के बाद शाइना को अपनी बहन और पति की नजदीकियों के बारे में पता लगा तो शाइना ने इस बारे में अपने पति से बात की और इसका विरोध किया। दोनों के बीच कहासुनी हुई। इसके बाद मंगलवार सुबह वसीम ने अपनी पत्नी को गोली मार दी। डीसीपी ने बताया कि इससे पहले शाइना तीन बार शादी कर चुकी थी। उसका तीसरा पति शराफत शेख भी जेल में बंद है।
फायरिंग की घटना के वक्त गली में थे कई लोग
सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई वारदात के दौरान गली में कुर्सी पर शाइना बैठी थी। जबकि गली में और भी लोग थे। वहां आरोपी वसीम अपनी पत्नी के सामने खड़ा था। उसने मौका देखकर पिस्तौल निकाली और पत्नी की ओर गोली चला दी। जिसका बीच-बचाव करने के लिए वहीं खड़ा शहादत आया। आरोपी ने उसे भी गोली मार दी। पहले दो-तीन राउंड चलाई गोली में शाइना बच गई। वह कुर्सी से उठकर बचने की कोशिश करने लगी। तभी आरोपी ने दूसरी पिस्तौल से उन्हें गोली मार दी। वह वहीं गली में गिर पड़ी। इसके बाद आरोपी ने उन्हें कई और गोली मारी। बाद में गली में सन्नाटा छा गया। आरोपी काफी देर तक वहीं खड़ा रहा। लेकिन किसी ने भी वहां आने की हिम्मत नहीं जुटाई। आरोपी के जाने के बाद भी कुछ लोग गली में आए। वह शव के पास से गुजरते गए। पुलिस ने बताया कि करीब एक साल पहले वसीम की शाइना से शादी हुई थी। वसीम फाइनैंस का काम करता था। वह लोगों को ब्याज पर पैसे देता था।