जल्लाद बाप: बेटी को मानता था अपशकुन इसलिए कई दिनों तक नहीं दिया खाना, मौत के बाद दफनाई लाश


  • जलगांव में जल्लाद पिता ने बेटी को कई दिनों तक नहीं दिया खाना
  • मासूम की भूख से तड़प तड़प कर हुई मौत
  • जलगांव का जल्लाद पिता बेटी को मानता था अपशकुन
  • आरोपी बाप ने बेटी की लाश को चुपचाप दफना दिया था
जलगांव,(महाराष्ट्र)। बेटियां सबसे ज्यादा अपने पिता की लाडली होती हैं, उनकी हर फरमाइश को पूरा करने के लिए बाप जान की बाजी लगा देता है। लेकिन महाराष्ट्र के जलगांव में माजरा बिल्कुल उल्टा है। यहां एक जल्लाद पिता ने अपनी 11 साल की बेटी को एक कमरे में बंद कर दिया और कई दिनों तक खाना नहीं दिया। आखिरकार भूख से तड़प तड़प कर मासूम की जान चली गई। यह कलयुगी बाप बेटी को अपशकुन मानता था।
यह घटना जलगांव जिले की रजा कॉलोनी में हुई है। जहां एक सनकी बाप की सड़ी हुई सोच ने एक मासूम को दुनिया देखने के पहले ही मौत के घाट उतार दिया। बेटी की मौत के बाद पिता ने मासूम की लाश को चुपचाप दफना दिया और बीवी और बाकी दो बेटियां के साथ घर छोड़ कर चला गया।
चाचा ने की पुलिस में शिकायत
जब लड़की चाचा को इस बात का संदेह हुआ तो उन्होंने स्थानीय पुलिस स्टेशन को इस बात की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ने घटना के बाद से फरार चल रहे जावेद और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस ने तहसीलदार की मौजूदगी में बच्ची के शव को जमीन से वापस निकलवाया और पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा था। जहां पता चला की बच्ची की मौत भूख की वजह से हुई है। इस घटना के बाद पूरे इलाके में मातम पसरा हुआ है। लोगों को यकीन नहीं हो रहा है कि उनके पड़ोस में ऐसी अमानवीय घटना घटी है।